close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बोर्ड परीक्षा की कॉपी में लिखी मोहब्बत की दास्तान, पास करने के लिए की अजीबोगरीब मिन्नतें

जब डीएवी कॉलेज में निरीक्षण के लिए गए जिला विद्यालय निरीक्षक मुनेश कुमार से जानकारी ली गई तो उन्होंने पूरे मामले का खुलासा कर दिया.

बोर्ड परीक्षा की कॉपी में लिखी मोहब्बत की दास्तान, पास करने के लिए की अजीबोगरीब मिन्नतें
परीक्षा की कॉपी में छात्र ने लिखा कि लव स्टोरी ने पढ़ाई से दूर किया...

मुजफ्फरनगर (अंकित मित्तल): उत्तर प्रदेश में इन दिनों उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य जोरों पर है. उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का काम यूपी बोर्ड द्वारा चिन्हित किए गए विद्यालयों में किया जा रहा है. मूल्यांकन के लिए आई पुस्तिकाओं में कुछ उत्तर पुस्तिकाएं ऐसी सामने आ रही हैं, जिन्हें देखकर आप भी हैरान हो जाएंगे कि हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के परीक्षार्थी किस तरह गैरजिम्मेदार हो चुकेे हैं, जो अपनी बोर्ड की परीक्षाओं की कॉपियों में या तो नोट चिपका रहे हैं या फिर मूल्यांकन करने वाले अध्यापक को इमोशनल ब्लैकमेल करके अंक हासिल करने का प्रयास कर रहेे हैं... और तो और एक कॉपी में तो देखा गया कि परीक्षार्थी ने उत्तर पुस्तिका को प्रेम पत्र बनाकर उसमें अपनी मोहब्बत की दास्तान ही लिख दी है.

मुजफ्फरनगर में हैं 4 मूल्यांकन केन्द्र
आपको बता दें कि जनपद मुजफ्फरनगर में माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए 4 सेंटर बनाए गए हैं, जिसमें पहला सेंटर राजकीय इंटर कॉलेज दूसरा डीएवी इंटर कॉलेज और तीसरा इस्लामिया इंटर कॉलेज चौथा ग्रेन चेंबर इंटर कॉलेज है. मुजफ्फरनगर में बोर्ड की उत्तर पुस्तिकाओं के जांचने का काम जोरों पर चल रहा है. अब इन सेंटरों में से राजकीय इंटर कॉलेज में कुछ ऐसी उत्तर पुस्तिका निकल रही है जो परीक्षार्थियों के गैरजिम्मेदार होने का सबूत दे रही हैं.

परीक्षा की कॉपी में लिखी मोहब्बत की बात
जानकारी के मुताबिक, कुछ छात्रों ने जहां अपनी उत्तर पुस्तिकाओं में 100-100 के नोट रखकर टीचरों को लालच देकर नंबर देने की बात की. वहीं, कुछ कॉपियों में टीचरों को इमोशनल ब्लैकमेल करके नंबर देने के लिए प्रार्थना की गई है तो किसी ने अपने मां-बाप ना होने की बात भी कॉपी में लिखकर पास करने की अपील की है. हद तो तब हो गई, जब एक छात्र ने अपनी उत्तर पुस्तिका में अपनी मोहब्बत की दास्तान ही लिख दी.

एक कॉलेज के प्राचार्य ने नकारी बात
जब जी मीडिया ने राजकीय इंटर कॉलेज के प्राचार्य रमेश चंद्र शर्मा से जानकारी मांगी तो उनका कहना था कि विद्यालय में मूल्यांकन का कार्य बड़ी ही सुरक्षा व्यवस्था के बीच चल रहा है. उनका कहना था कि मूल्यांकन को सीसीटीवी कैमरों में देखा जा रहा है, उनके संज्ञान में इस तरह का कोई मामला नहीं आया है, लेकिन उन्होंने मूल्यांकन करने वाले सभी अध्यापकों को जरूर आगाह कर दिया है कि अगर इस तरह की कोई कॉपी आती है तो पहले उसकी जानकारी मुझे दें.

दूसरे सेंटर के प्राचार्य ने कहा- ऐसी कॉपियां आई हैं
मगर जब डीएवी कॉलेज में निरीक्षण के लिए गए जिला विद्यालय निरीक्षक मुनेश कुमार से जानकारी ली गई तो उन्होंने पूरे मामले का खुलासा कर दिया. उनका कहना है कि इस तरह का मामला उनके संज्ञान में आया है. कुछ कॉपियां ऐसी निकली हैं, जिनमें से कुछ नोट निकले हैं और इस तरह की बातें लिखी हुई हैं. हालांकि कोई भी अध्यापक इस तरह की लिखी हुई बातों पर ध्यान नहीं दे रहा है.