close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बागपत में 'जय श्री राम' का नारा न लगाने पर मौलाना से मारपीट, मुकदमा दर्ज

जमीयत उलेमा हिंद के प्रदेश सचिव मौलाना शाहिद ने कहा कि इस तरह की मारपीट और नारे ना लगाने पर उन्माद फैलाना गलत है. 

बागपत में 'जय श्री राम' का नारा न लगाने पर मौलाना से मारपीट, मुकदमा दर्ज

मुजफ्फरनगर: बागपत में जय श्री राम का नारा न बोलने पर मौलाना से मारपीट के मामले ने तूल पकड़ लिया है. वहीं, बागपत पुलिस ने पीड़ित मौलाना की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. घटना की सूचना पर जमीयत उलेमा हिंद का एक डेलिगेशन पीड़ित मौलाना के घर पहुंचा और पीड़ित परिवार को सांत्वना दी. वहीं, पीड़ित परिवार को जल्द आरोपियों पर कार्रवाई कराने का आश्वासन भी दिया. साथ ही जमीयत उलेमा हिंद के डेलिगेशन में आये प्रदेश सचिव मौलाना शाहिद ने कहा कि जय श्री राम को हम व भारत का तमाम मुसलमान अपना आदर्श मानता है. 

मामला बागपत जनपद के दोघट थाना क्षेत्र का है. जहां मुज़फ्फरनगर के बुढाना कोतवाली क्षेत्र के गांव जौला निवासी मौलाना रहमान सरधना एक मस्जिद से पढ़ाकर वापस लौट रहे थे. तभी रास्ते में एक दर्जन से ज्यादा युवकों ने मौलाना को रोका और उससे जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाए. जब मौलाना ने नारे नही लगाए तो मौलाना के साथ मारपीट की. जिसके बाद मौलाना ने किसी तरह मौके से भागकर जान बचाई. मौलाना ने पहले बुढाना पहुंचकर पुलिस को मामला बताया. मामला बागपत का होने के कारण वापस बागपत भेज दिया गया. बागपत पुलिस ने मौलाना की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है. 

जमीयत उलेमा हिंद के प्रदेश सचिव मौलाना शाहिद ने कहा कि इस तरह की मारपीट और नारे ना लगाने पर उन्माद फैलाना गलत है. हम व भारत के तमाम मुसलमान जय श्री राम को अपना आदर्श मानते हैं और उनका एहतराम करते है. लेकिन इस तरह असामाजिक तत्व माहौल खराब करने की साजिश रच रहे है.