close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

स्‍मृत‍ि ईरानी का कांग्रेस पर हमला, कहा-अमेठी आतंकित हो, टूटे और झुके, इसीलिए प्रधान की हत्या हुई

अमेठी सांसद स्मृति ईरानी मृतक के घर पहुंचीं. उन्होंने पीड़ित परिवार को सांत्वना दिया और फिर मृतक की अर्थी को कंधा दिया. स्मृति ने यहां मीडिया से बात करते हुए कहा की पाताल में भी हत्यारे हुए तो लेकर आए जाएंगे.

स्‍मृत‍ि ईरानी का कांग्रेस पर हमला, कहा-अमेठी आतंकित हो, टूटे और झुके, इसीलिए प्रधान की हत्या हुई
स्‍मृत‍ि ईरानी ने प्रधान सुरेंद्र सि‍ंह की अर्थी को कंधा भी दिया. फोटो : एएनआई

अमेठी: अमेठी में शनिवार देर रात बीजेपी नेता की गोली मार कर हत्या कर दी गई. रविवार सुबह ये बात अमेठी मे जंगल की आग की तरह फैली. दिन में लखनऊ से पोस्टमार्टम के बाद जब पूर्व प्रधान का शव गांव पहुंचा तो भारी भीड़ जमा हो गई. अपराह्न बाद अमेठी सांसद स्मृति ईरानी मृतक के घर पहुंचीं. उन्होंने पीड़ित परिवार को सांत्वना दिया और फिर मृतक की अर्थी को कंधा दिया. स्मृति ने यहां मीडिया से बात करते हुए कहा की पाताल में भी हत्यारे हुए तो लेकर आए जाएंगे.

स्‍मृति‍ ईरानी ने कहा, सुरेन्द्र सिंह की हत्या बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. भाजपा का परिवार सुरेश सिंह को श्रद्धाजंलि देता है. भाजपा का कार्यकर्ता और अमेठी की जनता आश्वस्त है की हत्यारा अगर पाताल में ही होगा तो उसे ढूंढ निकाला जाएगा. आज मैंने सुरेन्द्र सिंह के परिवार के सामने संकल्प लिया है कि जिसने गोली चलाई है और जिसने आदेश दिया उसे सजा दिलाने के लिए अगर जरुरत पड़ी तो हम सुप्रीम कोर्ट भी जाएंगे.

स्‍मृति‍ ने कहा, अमेठी आतंकित हो, अमेठी टूटे, अमेठी झुके इसीलिए ये हत्या की गई. 23 तारीख को हमें राजनीतिक तौर पर सन्देश दिया गया था कि अमेठी को प्यार से संभालना और मैं ये कहती हूँ की मुझे ये सन्देश मिल चुका है.

घटना क्रम मे पुलिस ने पीड़ित परिवार की तहरीर पर पांच लोगो के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है. लगभग 6 संदिग्ध से पुलिस पूछताछ कर रही है. अमेठी में हुई घटना बीजेपी नेता की हत्या और कांग्रेसियों पर हत्या के आरोप से जुड़ा हुआ है. इसलिए ये मामला हाइ प्रोफाइल माना जा रहा है, जिसके बाद से पुलिस भी हरकत में दिख रही है . अमेठी में हाई अलर्ट भी जारी किया गया है. साथ ही बताया जा रहा है कि भाजपा नेता की हत्या में पुलिस ने तीन टीमें गठित कर दी हैं, जिसकी मॉनिटरिंग एसपी अमेठी कर रहे हैं और कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. वहीं बताया गया है कि पुलिस के हाथ कुछ अहम सुराग भी लगे हैं जिससे पुलिस बदमाशों तक जल्द ही पहुंच सकती है और जल्द ही घटना का खुलासा करने का दावा भी कर रही है. मृतक सुरेश सिंह के बेटे की मानें तो स्मृति ईरानी के चुनाव प्रसार से लेकर जीत दिलाने तक उनके पिता की अहम भूमिका थी, जिससे कांग्रेसी कार्यकर्ता नाराज दिख रहे थे और जीत के बाद जब जश्न का माहौल था तो कुछ लोगों ये पसंद नहीं आ रहा था, जिसके कारण ही उनकी हत्या की गई है. 

स्मृति ईरानी ने कांग्रेस का नाम लिए बग़ैर उसे दोषी ठहराया कहा कि अमेठी आतंकित हो, अमेठी टूटे-अमेठी झुके इसी लिए सुरेंद्र सिंह की हत्या की गई. स्मृति ने कहा कि सन 1977 से लेकर 2019 तक सुरेंद्र प्रताप सिंह हर चुनाव मे एक कर्मठ कार्यकर्ता प्रगतिशील नेता के नाते विकास के मुद्दे पर जनता को समाधान देते हुए अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे. उनकी आत्मा के साथ भाजपा का 11 करोड़ कार्यकर्ताओ का परिवार खड़ा है.

उन्होंने कहा नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की सरकार का ध्येय रहा है के कानून की मर्यादा मे इंसाफ हो.