photoDetails0hindi

Shattila Ekadashi 2023: षटतिला एकादशी के दिन भूलकर भी न करें ये 6 काम, अगर किया तो झेलना पड़ेगा विष्णु भगवान का कोप

हिंदू धर्म में एकादशी तिथि को सबसे पवित्र और फलदाई माना जाता है.  इस दिन भगवान विष्णु को समर्पित एकादशी व्रत रखा जाता है. माघ महीने की कृष्ण पक्ष की एकादशी को षटतिला एकादशी (shattila ekadashi) भी कहते हैं. इस साल 18 जनवरी को षटतिला एकादशी का व्रत रखा जाएगा.

चावल और बैंगन न खाएं

1/6
चावल और बैंगन न खाएं

Shattila Ekadashi 2023: षटतिला एकादशी के दिन यदि आप व्रत नहीं भी रखें, तब भी चावल और बैंगन का सेवन न करें.

मांसाहार का सेवन न करें

2/6
मांसाहार का सेवन न करें

Shattila Ekadashi 2023: इस दिन मांसाहार का सेवन न करें, शराब या नशीले पदार्थों से भी दूरी बनाएं और जुआ  न खेलें.

ब्रह्मचर्य का पालन करें

3/6
ब्रह्मचर्य का पालन करें

Shattila Ekadashi 2023: षटतिला एकादशी का व्रत रखने वालों को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए.

शहद और मसूर भी वर्जित

4/6
शहद और मसूर भी वर्जित

Shattila Ekadashi 2023: षटतिला एकादशी पर शहद और मसूर की दाल का सेवन भी वर्जित माना गया है.

बिस्तर पर न सोएं

5/6
बिस्तर पर न सोएं

Shattila Ekadashi 2023: एकादशी के व्रत के दिन बिस्तर पर न सोएं, इस दिन जमीन पर सोना चाहिए.

किसी को द्वार से वापस न लौटाएं

6/6
किसी को द्वार से वापस न लौटाएं

षटतिला एकादशी के दिन घर आए किसी भिखारी या जरुरतमंद को वापस न लौटाएं

 

photo-gallery