आयुष्मान भारत योजना में कुशीनगर की बड़ी छलांग, कार्ड बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर
X

आयुष्मान भारत योजना में कुशीनगर की बड़ी छलांग, कार्ड बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर

प्रदेश भर में आयुष्मान कार्ड (Ayushman Card) का तेजी से वितरण हो रहा है, जिसमें गरीब पांच साल तक का इलाज मुफ्त हासिल कर रहे हैं.

आयुष्मान भारत योजना में कुशीनगर की बड़ी छलांग, कार्ड बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर

कुशीनगर: भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat scheme) के तहत कार्ड बनाने के मामले में प्रदेश में कुशीनगर (Kushinagar) दूसरे स्थान पर बना हुआ है. गरीबों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज उपलब्ध कराने वाली इस योजना में कुशीनगर बाकी जिलों के लिए एक मिसाल है. 

कुशीनगर ने तेजी से कार्ड बनाने में रचा इतिहास
गरीबों के हाथ में ये आयुष्मान कार्ड एक सामान्य कार्ड नहीं बल्कि बेसहारा, सिसकती, बीमार जिंदगियों के लिए वरदान सरीखा है. जिसके जरिए लाखों लोग या तो इलाज पा चुके हैं या फिर इस बात से निश्चिंत हो चुके हैं कि उनकी बीमारी के इलाज के लिए उनकी गरीबी आड़े आएगी. क्योंकि सरकार ने आगे बढ़कर गरीबों का हाथ थामा है. प्रदेश भर में आयुष्मान कार्ड का तेजी से वितरण हो रहा है, जिसमें गरीब पांच साल तक का इलाज मुफ्त हासिल कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- आगरा: मूर्ति विसर्जन के दौरान हादसा, 2 सगे भाई समेत 5 युवक नदी में डूबे

जन आरोग्य मेले में लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड वितरित किया गया 
कलेक्ट्रेट सभागार में बीते 11 अक्टूबर को जन आरोग्य मेले का आयोजन करके इस अभियान को और तेजी दी गई. इस मेले में 52 लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड का वितरण किया गया. जबकि सैकड़ों लोगों का रजिस्ट्रेशन किया गया. दरअसल, कुशीनगर का स्वास्थ्य विभाग इस अभियान के लिए बेहद प्रतिबद्धता से काम कर रहा है. जिसका नतीजा है कि आयुष्मान कार्ड के मामले में वो पिछले तीन महीनों से टॉप फाइव में था. लेकिन पिछले एक महीने से लगातार दूसरे नंबर पर काबिज है. 

स्वास्थ्य विभाग चला रहा है अभियान 
आपको बता दें कि 23 सितम्बर 2018 से संचालित इस योजना के जरिए जनपद का लक्ष्य 11 लाख 43 हजार निर्धारित किया गया था. जिसे अब श्रमिकों सहित अंत्योदय के लाभार्थियों को भी जोड़ा गया है. जिसके बाद अब इस योजना का दायरा 15 लाख से अधिक लोगों तक पहुंच सकता है. स्वास्थ्य विभाग इसके लिए हर पखवारे में अभियान चला रहा है. 

ये भी पढ़ें- कन्या सुमंगला योजना में बड़ा फर्जीवाड़ा, 258 आवेदक मिले फर्जी, दोषी अफसरों और कर्मचारियों पर गिरेगी गाज

आयुष्मान कार्ड योजना के प्रोत्साहन के पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कुशल नेतृत्व भी है, जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी काफी तेजी से काम कर रहे हैं. बीते दिनों हुए जन आरोग्य मेले को खुद मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया, जिसका सभागार में लाइव प्रसारण भी किया गया. उम्मीद है कि इस महत्वपूर्ण योजना को लेकर स्वास्थ्य विभाग का अभियान जल्द ही कुशीनगर को प्रदेश में नंबर वन के पायदान पर खड़ा कर देगा. 

WATCH LIVE TV

Trending news