Territorial Army Day पर जवानों के बीच पहुंचे थे सीएम धामी, अलग ही अंदाज में आए नजर
X

Territorial Army Day पर जवानों के बीच पहुंचे थे सीएम धामी, अलग ही अंदाज में आए नजर

टेरिटोरियल आर्मी में देश के आम नागरिक रहते हुए सैन्य अनुभव ले सकते हैं. यह एक वॉलंटियर सर्विस होती है. ट्रेनिंग देने के बाद जरूरत पड़ने पर सेना आपकी सेवा ले सकती है...

Territorial Army Day पर जवानों के बीच पहुंचे थे सीएम धामी, अलग ही अंदाज में आए नजर

देहरादून: 9 अक्टूबर को टेरिटोरियल आर्मी डे पर जवानों के बीच पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर धामी कुछ अलग ही अंदाज में नज़र आए. जवानों के बीच पहुंचे सीएम पुष्कर धामी उनके साथ गढ़वाली गीत पर सुर मिलाते दिखे और जवानों के साथ गीत गुनगुनाया. सीएम को अपने बीच पाकर जवान भी बेहद खुश नजर आए.

UP में गहराया बिजली संकट, जरूरत से कम कोयला उपलब्ध, सामने आईं कटौती की 4 बड़ी वजह

सांस्कृतिक संध्या में गाए लोक गीत
सीएम धामी शनिवार को देर शाम गढ़ी कैंट स्थित 127 इन्फेन्ट्री बटालियन टेरिटोरियल आर्मी केम्पस में आयोजित टेरिटोरियल आर्मी डे समारोह में शामिल हुए. इस मौके पर सीएम ने सेना के अधिकारियों व जवानों को बधाई दी. सीएम धामी ने जवानों के बीच जाकर उनसे बातचीत की व सांस्कृतिक संध्या में जवानों के साथ आयोजित गीत संगीत के कार्यक्रम में भी प्रतिभाग किया. 

प्रकृति को बचा रहे जवान
टेरिटोरियल आर्मी के जवान पर्यावरण संरक्षण की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं. देश की सीमाओं की सुरक्षा के साथ प्रकृति को सजाने का भी काम किया जा रहा है. 

हरदोई: 9वीं क्लास की छात्रा के साथ सहपाठी ने किया दुष्कर्म, ऑडियो भी किया वायरल, केस दर्ज

क्या होती है Territorial Army?
बता दें, टेरिटोरियल आर्मी में देश के आम नागरिक रहते हुए सैन्य अनुभव ले सकते हैं. यह एक वॉलंटियर सर्विस होती है. ट्रेनिंग देने के बाद जरूरत पड़ने पर सेना आपकी सेवा ले सकती है. दरअसल, कई बार ऐसा होता है कि युवा आर्मी में भर्ती तो होना चाहते हैं, लेकिन किसी कारण से नहीं हो सकते. ऐसे में आर्मी टेरिटोरियल आर्मी भर्ती के जरिए देश सेवा का मौका देती है.

WATCH LIVE TV

Trending news