close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस एक्सप्रेस में महिला होस्टेस से लिया जाएगा फीडबैक, कर सकेंगी परेशानी की शिकायत

ट्रेन में सफर के दौरान ट्रेन में 45 महिला अटेंडेंट होस्टेस को भी रखा गया है. जो ट्रेन में लगे हेल्प बटन के दबाते ही यात्रियों की मदद को तैयार रहती हैं.

तेजस एक्सप्रेस में महिला होस्टेस से लिया जाएगा फीडबैक, कर सकेंगी परेशानी की शिकायत
तेजस एक्सप्रेस के संचालन से पहले आईआरसीटीसी कर्मचारियों को यात्रियों के साथ सम्मानजनक व्यवहार व सहयोगी की तरह पेश आने की ट्रेनिंग दी गई है.

लखनऊ: देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन तेजस में दिन प्रतिदिन आईआरसीटीसी (irctc) के द्वारा कई सारे प्रयोग किए जा रहे हैं. यात्रियों की सुविधा हो या फिर उनको बेहतर से बेहतर सफर का अनुभव देना हो, उसके  लिए आईआरसीटीसी नए प्रयोग कर रही है. हाल के दिनों में आईआरसीटीसी ने तेजस एक्सप्रेस में काम करने वाली महिला होस्टेस के लिए एक फीडबैक व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाया है. पहले देखा जाता था कि केवल यात्रियों का ही फीडबैक लिया जाता था. लेकिन, महिला होस्टेस के साथ सफर में होने वाली परेशानियों को देखते हुए इस तरह का ग्रुप तैयार किया गया है. जिसमें वे सफर के दौरान होने वाली परेशानियों को अपने सीनियर तक साझा कर सकती है.

तेजस एक्सप्रेस में बहुत सारी हाइटेक सुविधाएं दी गई हैं. इस ट्रेन में सफर के दौरान ट्रेन में 45 महिला अटेंडेंट होस्टेस को भी रखा गया है. जो ट्रेन में लगे हेल्प बटन के दबाते ही यात्रियों की मदद को तैयार रहती हैं. लेकिन, शुरुआती सफर के बाद से ही ट्रेन होस्टेस सेल्फी लेने वाले यात्रियों से परेशान हैं. बता दें कि तेजस एक्सप्रेस के संचालन से पहले आईआरसीटीसी कर्मचारियों को यात्रियों के साथ सम्मानजनक व्यवहार व सहयोगी की तरह पेश आने की ट्रेनिंग दी गई है. 

आईआरसीटीसी के सीआरएम मैनेजर अश्वनी श्रीवास्तव कहते हैं कि जब नई-नई ट्रेन शुरू हुई थी, तब तो इस तरह देखा जाता था कि लोगों को सेल्फी लेने का भी क्रेज था. लेकिन, कोई भी लिखित शिकायत हमारे पास किसी होस्टेस ने नहीं की है अब तक. फिर भी हम अपनी महिला होस्टेस की हर समस्या के लिए खड़े हैं. उनकी मदद के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है. जिस पर वे अपनी कोई भी शिकायत कर सकती हैं. सफर के दौरान मदद के लिए व्हाट्सएप पर मॉनिटरिंग भी की जाएगी.