चित्रकूट जेल में गैंगवार के बाद बांदा में बंद मुख्तार अंसारी की बढ़ाई गई सुरक्षा

चित्रकूट जेल में शुक्रवार को तीन अपराधी आपस में ही भिड़ गए, इसमें से एक मुख्तार का बेहद करीबी माना जाता था.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 14, 2021, 09:33 PM IST
  • अंसारी के परिवार ने उठाए सवाल
    मुख्तार बांदा की जेल में हैं बंद
चित्रकूट जेल में गैंगवार के बाद बांदा में बंद मुख्तार अंसारी की बढ़ाई गई सुरक्षा

लखनऊः यूपी के चित्रकूट जेल में शुक्रवार को हुए गैंगवार के बाद बांदा की जेल में बंद गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को और अधिक चुस्त कर दिया गया है. दरअसल, चित्रकूट जेल में जिन तीन अपराधियों की हत्या हुई है उसमें से दो को मुख्तार का करीबी माना जाता है. इससे पहले मुख्तार के एक और करीबी रहे मुन्ना बजरंगी की भी बागपत जेल में 3 साल पहले हत्या कर दी गई थी. वहीं, मुख्तार का परिवार भी लगातार अंसारी के जान के खतरे की बात कहता रहा है. लिहाजा इस हत्याकांड के बाद बांदा जेल में मुख्तार की सुरक्षा को और अधिक बढ़ा दिया गया है. 

मुख्तार के भाई ने कहा...
इस घटना के बाद मुख्तार के बड़े भाई और गाजीपुर से सांसद अफजाल अंसारी ने कहा कि पहले गली मोहल्लों, चौराहों पर गैंगवार होती थी, अब जेलों में हो रही है. यही यूपी सरकार की व्यवस्था है. जब इस तरह की घटनाएं होने लगें तो चिंता बढ़ जाती है. एक मीडिया इंटरव्यू में अफजाल अंसारी ने कहा कि जेल के भीतर गैंगवार पहली बार सुन रहा हूं. इस तरह की घटनाएं होने से डर का माहौल पैदा हो जाता है. 

मुख्तार ने कोरोना को हराया
बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की एंटीजन टेस्ट में कोरोना रिपोर्ट बुधवार को निगेटिव आई है. वह 24 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. जेल अधीक्षक प्रमोद तिवारी ने बताया कि मुख्तार अंसारी पूरी तरह से स्वस्थ हैं. अब उनकी कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिव आ गई. आइसोलेशन बैरक से उन्हें मूल बैरक नंबर-16 में भेज दिया गया. इसके पूर्व जेल के सभी बैरकों को एक बार फिर सैनिटाइज कराया गया है.

पंजाब से यूपी की जेल आए थे मुख्तार
मुख्तार को यूपी की जेल में लाने के लिए यूपी की योगी सरकार ने पंजाब सरकार से सुप्रीम कोर्ट तक लड़ाई लड़ी थी. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मुख्तार को यूपी की बांदा जेल में शिफ्ट किया गया था. बताते हैं कि मुख्तार की सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी लखनऊ से होती है. हालांकि, बाहुबली का परिवार हमेशा से यूपी सरकार की नीयत पर सवाल उठाता रहा है और कहता रहा है कि मुख्तार की जान को खतरा है. 

चित्रकूट जेल में क्या हुआ
 बताते हैं कि शुक्रवार को चित्रकूट जेल में अंशु दीक्षित नामक एक बदमाश ने सुबह लगभग 10 बजे मुकीम काला और मेराज अली को गोली मार दी. उसने 5 अन्य बंदियों को अपने कब्जे में कर लिया और उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगा. मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे भी गोली मार दी.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़