close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चक्रधरपुर: चूल्हा के पेटेंट डिजाइन और ट्रेड मार्क को चोरी कर करोड़ों कमाने वाला जालसाज अरेस्ट

दिल्ली के आर.बाबू ने रवि राय के धुंआ रहित चुल्हा के पेटेंट डिजाइन व ट्रेड मार्क की चोरी कर ली थी. इसके बाद षड़यंत्र रच कर जालसाजी करते हुये इस प्रोडेक्ट का नकली चूल्हा बना कर तीन सालों से विभिन्न राज्य सरकारों की योजनाओं के तहत व अन्य जगहों पर उसे गैरकानूनी तरीके से बेचा.

चक्रधरपुर: चूल्हा के पेटेंट डिजाइन और ट्रेड मार्क को चोरी कर करोड़ों कमाने वाला जालसाज अरेस्ट
चक्रधरपुर के धुंआ रहित चुल्हा अविष्कारक रवि राय से जालसाजी की है.

आनंद प्रियदर्शी, चक्रधरपुर: झारखंड के चक्रधरपुर पुलिस ने पेटेंट डिजाइन व ट्रेड मार्क चोरी कर करोड़ों रूपये की जालसाजी करने के मामले में दिल्ली से आर.बाबू नामक एक शख्स को गिरफ्तार किया है. चक्रधरपुर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आनंद मोहन सिंह ने चक्रधरपुर थाना परिसर में संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर मामले की जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली से गिरफ्तार आर बाबू उर्फ रईस बाबू ने चक्रधरपुर के धुंआ रहित चुल्हा अविष्कारक रवि राय से जालसाजी की है.

दिल्ली के आर.बाबू ने रवि राय के धुंआ रहित चुल्हा के पेटेंट डिजाइन व ट्रेड मार्क की चोरी कर ली थी. इसके बाद षड़यंत्र रच कर जालसाजी करते हुये इस प्रोडेक्ट का नकली चूल्हा बना कर तीन सालों से विभिन्न राज्य सरकारों की योजनाओं के तहत व अन्य जगहों पर उसे गैरकानूनी तरीके से बेचा. चुल्हा की ब्रिकी के लिये आर बाबू ने दस्तावेजों से हेराफेरी की और पंजीकृत बेवसाइट की जगह नकली बेवसाइट बना कर इसकी इंटरनेट पर मार्किटिंग भी की. बतौर पुलिस इस तरह चूल्हे की मार्किटिंग से आर बाबू ने करोड़ो रुपयों की काली कमाई की.

 

बता दे कि अविष्कारक रवि राय ने धुंआ रहित चुल्हा फायरएनजल का पेटेंड डिजाइन व ट्रेड मार्क का मालिकाना हक जो कि भारत सरकार के नवीन व नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय एवं भारतीय प्रोद्यौगिकी संस्थान नई दिल्ली द्वारा पारित कराया था. दिल्ली में आर बाबू रवि राय के साथ फायरएनजल चुल्हा निर्माण में बिजनेस पार्टनर थे. जालसाजी करने के कारण रवि राय ने आर बाबू के खिलाफ चक्रधरपुर थाना में 22 सिंतबर 2018 को मामला दर्ज किया था.

जिस पर पश्चिमी सिंहभूम पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार एक टीम का गठन किया गया. दिल्ली के सुकुरपुर जेजे कॉलोनी जाकर चक्रधरपुर पुलिस टीम ने मामले की छानबीन की और आरोपी आर बाबू को दिल्ली से गिरफ्तार कर चक्रधरपुर ले आई. पुलिस के मुताबिक आर बाबू ने अपने ऊपर लगे सारे आरोप को स्वीकार कर लिया है.  इस मामले के उदभेदन में एसपी द्वारा गठित टीम में पुलिस अवर निरीक्षक राहुल कुमार सिंह, रंजीत महतो, आरक्षी सौरभ कुमार सिंह, हवालदार सोना राम दिग्गी शामिल थे.