दरभंगा: दो दिनों की हड़ताल पर ऑटो रिक्शा चालक, यात्रियों को हो रही परेशानी

परमिट नियमों में खामियों का खामियाजा भुगत रहे जिले के भारतीय ऑटो रिक्शा चालक संघ से जुड़े करीब 10 हजार ऑटो चालक मंगलवार सुबह से दो दिनों की हड़ताल पर चले गए हैं.

दरभंगा: दो दिनों की हड़ताल पर ऑटो रिक्शा चालक, यात्रियों को हो रही परेशानी
ऑटो चालक मंगलवार सुबह से दो दिनों की हड़ताल पर चले गए हैं.

दरभंगा: परमिट नियमों में खामियों का खामियाजा भुगत रहे जिले के भारतीय ऑटो रिक्शा चालक संघ से जुड़े करीब 10 हजार ऑटो चालक मंगलवार सुबह से दो दिनों की हड़ताल पर चले गए हैं. दरभंगा में ऑटो चालकों ने जगह-जगह-जगह सड़क जाम कर प्रदर्शन किया. हड़ताल की वजह से  दरभंगा के लोगों को काफी परेशानी हो रही है. खास तौर पर दूर-दराज से आए मरीजों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है.

भारतीय ऑटो रिक्शा चालक संघ के जिला उप सचिव राजू कुमार ने बताया कि पुलिस उन्हें बेवजह तंग करती है. उन्हें उस जगह से परमिट जारी किया जाता है जो घर से 10 किमी दूर है. वो अपने घर शाम को ऑटो लेकर आते हैं तो उनसे जुर्माने के तौर पर 15 हजार की राशि मांगी जाती है.

इसके अलावा उन्होंने टॉल प्लाजा का परमिट दिये जाने, कम से कम 40-45 किमी दूरी तक ऑटो चलाने की अनुमति देने और रिजर्व में कम से कम डेढ़ सौ किमी जाने की छूट दिये जाने की मांग की. उधर, भारत-नेपाल सीमा मधुबनी जिले के लौकहा से मरीज का इलाज कराने आए मो. सऊद ने कहा कि उन्हें बस स्टैंड से पैदल तीन किमी बाघ मोड़ आना पड़ा. यहां से लहेरियासराय जाना है. 

उनके साथ मरीज है जिसे डॉक्टर से दिखाना है लेकिन ऑटो नहीं मिल रहा है. वो अब सात किमी पैदल जाने की स्थिति में नहीं है. उनके मरीज की जान पर खतरा हो सकता है.