Bihar: कोरोना पर सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, लेकिन कांग्रेस और राजद का संपूर्ण लॉकडाउन को ना

Bihar Corona News: कोरोना के ऱोकथाम के उपाय ढूंढने को लेकर लेकर राज्य सरकार की तरफ से शनिवार को एक सर्वदलीय बैठक  बुलाई गई है  

Bihar: कोरोना पर सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, लेकिन कांग्रेस और राजद का संपूर्ण लॉकडाउन को ना
कोरोना से निपटने के लिए सरकार ने बुलाई सर्वदलाीय बैठक.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

patna: बिहार में कोरोना की वजह से लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. बढ़ते कोरोना के कारण आम लोग से लेकर राज्य सरकार तक परेशान है. वहीं, कोरोना के ऱोकथाम के उपाय ढूंढने को लेकर लेकर राज्य सरकार की तरफ से शनिवार को एक सर्वदलीय बैठक भी बुलाई गई है. वहीं, कांग्रेस और राजद ने कहा है कि नियमों को और कठोर बनाया जाए. सख्ती बढ़ाई जाए लेकिन संपूर्ण लॉकडाउन लागू नहीं किया जाए. 

इधर, बढ़ते कोरोना पर कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा है कि पिछली बार जब सिर्फ 600 मामले थे तब देश में बिना किसी सलाह लिए प्रधानमंत्री ने चार घंटे के नोटिस पर लॉकडाउन लागू कर दिया था. लेकिन इस बार रोजाना लाखों केस सामने आ रहे हैं फिर भी प्रधानमंत्री चुप हैं. राजेश राठौड़ ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि वो पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. क्योंकि उन्हें जीत चाहिए.

ये भी पढ़ें-Corona को लेकर एक्शन में नीतीश सरकार, इस दिन होगा Lockdown पर फैसला

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री भी कुछ नहीं कर रहे हैं. साथ ही बिहार के स्वास्थ्य मंत्री पर हमला बोलते हुए राजेश राठौड़ ने कहा कि वो भी पश्चिम बंगाल के चुनावों में व्यस्त थे. और इधर, बिहार में ऑक्सीजन, बेड और डॉक्टर के इंतजाम नहीं है. वहीं, राजद के वरिष्ठ नेता और बिहार विधानपरिषद के सदस्य रामबली सिंह चंद्रवंशी ने कहा है कि संपूर्ण लॉकडाउन कोई समाधान नहीं है. बल्कि ,इससे समस्या बढ़ेगी ही. उन्होंने कहा कि बिहार सरकार को व्यवस्था बनाए रखने पर जोर देना चाहिए.

इधर, बीजेपी ने भी कांग्रेस को उचित सलाह देने की मांग की है. पार्टी प्रवक्ता रामसागर सिंह ने कहा देश गहरे संकट में है. लेकिन बिहार सरकार ने पिछली बार भी बेहतर काम किया था, मृत्युदर काफी कम होने के साथ-साथ पॉजिटिविटी रेट काफी कम थी.