close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: लॉ एण्ड आर्डर ठीक करने के लिए गांव के गुंडों को दुरुस्त करेगी पुलिस, DGP ने दिए निर्देश

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने निर्देश दिया कि हर गांव के एंटी सोशल एलिमेंट को पुलिस चिन्हित करे. इस काम में गांव के चौकीदार मदद करेंगे.

बिहार: लॉ एण्ड आर्डर ठीक करने के लिए गांव के गुंडों को दुरुस्त करेगी पुलिस, DGP ने दिए निर्देश
बिहार के डीजीपी ने दिया आदेश. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में लॉ एण्ड आर्डर (Law and Order) को दुरुस्त करने के लिए पुलिस अब अपना ध्यान गांव की ओर फोकस करेगी. बीते शनिवार को पुलिस मुख्यालय (Bihar Police) के साथ-साथ सभी आईजी, डीआईजी और एसपी के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग हुई. जिसमें ये फैसला हुआ कि हर गांव के गुंडों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. साथ ही पुलिस मुख्यालय ने दशहरा से पहले सभी सांप्रदायिक मामलों से जुडे केसों के निष्पादन का भी निर्देश सभी जिलों के एसपी को दे दिया है, जिससे पर्व त्योहार शांति से मनाया जा सके.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Guptehswar Pandey) ने निर्देश दिया कि हर गांव के एंटी सोशल एलिमेंट को पुलिस चिन्हित करे. इस काम में गांव के चौकीदार मदद करेंगे. थाने के रजिस्टर में एंटी सोशल एलिमेंट का ब्यौरा दर्ज किया जाएगा.

डीजीपी ने उन थानों को भी विशेष निर्देश दिया है, जहां गुंडा रजिस्टर लंबे समय से अपडेट नहीं हुआ है. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के निर्देश अनुसार अब हर थाने को गुंडा रजिस्टर को अपडेट करना होगा. रजिस्टर में नए अपराधियों के नामों को जोड़ा जाएगा. जो गुंडे 20-25 सालों से अपने इलाके में नहीं रह रहे हैं या फिर बुजुर्ग हो गए हैं उनके नाम को गुंडा रजिस्टर से हटाया जाएगा.

लाइव टीवी देखें-:

सभी एसपी को ये निर्देश दिया गया है कि सांप्रदायिक तनाव से जुड़े जो भी लंबित केस हैं उनको दुर्गा पूजा से पहले हर हाल में निपटा लिया जाय. इसके अलावा पूजा को देखते हुए जो संवेदनशील इलाके हैं वहां पुलिस के डेपुटेशन पहले तय कर लिए जाएं. बिहार में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिए डीजीपी का ये निर्देश कारगर साबित हो सकता है.

इससे पहले 7 सितंबर को बिहार में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों का तबादला किया गया था. जिसमें 157 इंस्पेक्टर और 125 सब इंस्पेक्टर शामिल थे. इसके अलावा डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने राज्य में बढ़ रहे अपराध पर रोक लगाने के लिए पुलिस अधिकारियों को चेतावनी भी दी थी और बेहतर काम करने वाले पुलिस अधिकारियों को पुरस्कृत करने का वादा भी किया था.  

-- Sameer Bajpai, News Desk