'भोंसले' को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिलने पर मनोज बाजपेयी बोले-अवॉर्ड सिर्फ मेरे लिए नहीं बल्कि...

67th National Film Award: फिल्म मुंबई में प्रवासियों के सामने आने वाली वास्तविक समस्या से संबंधित है, जो वर्तमान समय में प्रासंगिक है. मनोज बाजपेयी 'भोंसले' फिल्म में मुख्य भूमिका निभाई है. 

'भोंसले' को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिलने पर मनोज बाजपेयी बोले-अवॉर्ड सिर्फ मेरे लिए नहीं बल्कि...
'भोंसले' को मिला राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार. (फाइल फोटो)

Patna: राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह (67th National Film Award) के 67वें संस्करण की घोषणा कर दी गई है. मुंबई शहर में सोमवार को घोषित किए गए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों (National Film Award) के तहत हिंदी फिल्म 'भोंसले' ( Film Bhonsle) के लिए मनोज बाजपेयी (Manoj Bajpai) और तमिल फिल्म में उनकी भूमिका के लिए धनुष को संयुक्त रूप से सर्वश्रेष्ठ अभिनेता घोषित किया गया है. उन्होंने कहा कि वह अपने दिल से प्रत्येक व्यक्ति के आभारी है जिन्होंने इस फिल्म और उनका समर्थन किया है.

ये भी पढ़ेंः सबसे बड़े फिल्म सम्मान ने सुशांत के अभिनय को दिया आखिरी सलाम, फिर से लोगों को रूला गई 'छिछोरे'

वह अपने निर्देशक देवाशीष मखीजा और अपने सह-अभिनेताओं संतोष जुवेकर और इप्शिता चक्रवर्ती, निर्माता संदीप कपूर, पीयूष सिंह, सौरभ गुप्ता इन सभी लोगों का शुक्रगुजार है. वहीं, उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि यह अवॉर्ड केवल उनके लिए ही नहीं, बल्कि फिल्म से जुडे़ सभी लोगों के लिए है. जब भोंसले ने इस राष्ट्रीय पुरस्कार के साथ अपनी यात्रा पूरी की है तो वह केवल आभार महसूस कर रहे है और कुछ नहीं.

बता दें कि फिल्म मुंबई में प्रवासियों के सामने आने वाली वास्तविक समस्या से संबंधित है, जो वर्तमान समय में प्रासंगिक है. मनोज बाजपेयी 'भोंसले' फिल्म में मुख्य भूमिका निभाई है. जिसके लिए उन्हें फिल्म आलोचकों की तरफ से भी काफी सराहना मिली है.

(इनपुट-आईएएनएस)