MLC उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर जारी पत्र में हुई ये बड़ी गलती, हर जगह हो रही JDU प्रदेश अध्यक्ष की किरकरी

कुशवाहा की ओर से जारी पत्र में तनवीर अख्तर को 'मरहूम' की जगह 'महरूम' लिख दिया गया. 'मरहूम' का मतलब दिवंगत होता है, जबकि 'महरूम' का अर्थ अभागा होता है.

MLC उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर जारी पत्र में हुई ये बड़ी गलती, हर जगह हो रही JDU प्रदेश अध्यक्ष की किरकरी
MLC उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर जारी पत्र में हुई ये बड़ी गलती.

Patna: बिहार विधान परिषद (Bihar Legislative Council) की एक सीट पर होने वाले उप चुनाव के लिए जेडीयू (JDU) ने तनवीर अहमद (Tanveer Ahmad) की पत्नी रोजीना नाजिश को उम्मीदवार घोषित किया गया है. वहीं, इसे लेकर जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा (Umesh Kushwaha) की ओर से जारी पत्र में एक शब्द को लेकर त्रुटि हुई है, जिसके बाद से उनकी हर जगह किरकरी हो रही है. 

क्या है पूरा मामला
प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने तनवीर अख्तर की पत्नी रोजीना नाजिश को MLC उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर एक पत्र जारी किया था. कुशवाहा की ओर से जारी पत्र में तनवीर अख्तर को 'मरहूम' की जगह 'महरूम' लिख दिया गया. 'मरहूम' का मतलब दिवंगत होता है, जबकि 'महरूम' का अर्थ अभागा होता है. इसी क्रम में गलत शब्द लिखने से पूरे वाक्य के मायने बदल गए और उनकी जमकर किरकिरी हुई है.  

ये भी पढ़ें- भगवान राम को लेकर मांझी का विवादित बयान, BJP बोली-अपना नाम बदलें पूर्व CM

कोरोना से हुआ था निधन
बता दें कि पिछले साल कोरोना (Coronavirus) से JDU के MLC रहे मो. तनवीर अख्तर का निधन हो गया था. मूल रूप से गया के रहने वाले तनवीर अख्‍तर पिछले साल मई महीने में कोरोना वायरस की चपेट में आए थे. वे JDU अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और निधन के समय जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के बिहार के प्रभारी थे. 

CM नीतीश ने की थी परिवार से मुलाकात
वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने हाल ही में दिवंगत नेता के घर जाकर उनकी पत्नी और परिवार से मुलाकात की, जिसके बाद से ही यह कयास लगाए जा रहे थे कि जदयू इस सीट पर तनवीर अख्तर की पत्नी को ही अपना उम्मीदवार बनाएगी.