पंचायत चुनाव में पहले चरण में 59.85 फीसदी वोटिंग, आधी आबादी ने दिखाया दम

राजधानी पटना में राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनावों के दौरान वोटिंग पर नजर रखने के लिए कंट्रोल रूम बनाया है. संवेदनशील और अतिसंवेदनशील पोलिंग बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है.

पंचायत चुनाव में पहले चरण में 59.85 फीसदी वोटिंग, आधी आबादी ने दिखाया दम
पंचायत चुनाव में पहले चरण में 59.85 फीसदी वोटिंग.

Patna: Bihar Panchayat Chunav 2021 बिहार में पंचायत चुनाव के पहले चरण में कुल 59.85 फीसदी वोटिंग हुई. रोहतास में सबसे ज्यादा 62.50 फीसदी वोटिंग हुई. महिलाओं ने बढ़-चढ़कर वोटिंग में हिस्सा लिया. ज्यादातर पोलिंग बूथों पर महिलाओं की मौजूदगी ज्यादा दिखी और कुल वोट प्रतिशत ज्यादा रहा. पहले चरण में राज्य के 10 जिलों - मुंगेर, जमुई, बांका, गया, रोहतास, नवादा, औरंगाबाद, कैमूर, जहानाबाद और अरवल के 12 प्रखंडों की 151 पंचायतों में वोट डाले गए. 

वोटिंग के लिए 2119 पोलिंग बूथ बनाए गए थे. 4985 पदों के लिए चुनाव मैदान में उतरे उम्मीदवारों की किस्मत मतपेटी में बंद हो गई है. इस चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ बैलेट पेपर भी इस्तेमाल किए गए हैं. यह पहला मौका है, जब स्थानीय निकाय चुनाव में ईवीएम इस्तेमाल हो रही है.    

ये भी पढ़ें-Bihar Panchayat Election: पहले चरण में निर्विरोध जीते 858 उम्मीदवार, जिम्मेदारी संभालने के लिए दिसंबर तक करना होगा इंतजार

कंट्रोल रूम से वोटिंग पर नजर
राजधानी पटना में राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनावों के दौरान वोटिंग पर नजर रखने के लिए कंट्रोल रूम बनाया है. संवेदनशील और अतिसंवेदनशील पोलिंग बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है. निर्वाचन आयोग की ओर से हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है, जिस पर कोई भी शिकायत की जा सकती है. मतदाता सूची में नाम होने से संबंधित ज्यादातर शिकायतें आई.

औरंगाबाद में हुई हवाई फायरिंग
औरंगाबाद में वोटिंग के दौरान हंगामा हो गया. सदर प्रखंड के नौगढ़ पंचायत के पोलिंग बूथ के बाहर पथराव की घटना हुई. जिलाधिकारी सौरभ जोरवाल ने इस बात की तस्दीक की कि बेकाबू भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी. हंगामे के चलते कुछ देर तक वोटिंग की प्रक्रिया बाधित रही. 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है. हंगामे के बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई.

मुंगेर में पुलिस की गाड़ी क्षतिग्रस्त
मुंगेर के तारापुर प्रखंड के बूथ संख्या 8 और 10 में पत्थरबाजी की घटना हुई. दो उम्मीदवारों के समर्थक आपस में भिड़ गए. उपद्रवियों ने मुफस्सिल थाना पुलिस के सर्किल इंस्पेक्टर  के वाहन के शीशे तोड़ दिए. तारापुर थाना अध्यक्ष राजेश कुमार रंजन पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले को शांत करवाया.

ये भी पढ़ें-Bihar Panchayat Chunav 2021: वोटिंग से पहले रिजल्ट जारी, पहले चरण के नामांकन वापसी के बाद 859 अभ्यर्थी जीते

पंचायती राज मंत्री ने डाला वोट
मुंगेर जिले के तारापुर प्रखंड की मानिकपुर पंचायत में सूबे के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी (Samrat Chaudhary) ने वोट डाला. कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उन्होंने वोटिंग की. उन्होंने सभी मतदाताओं से भी कोविड नियमों (Corona Guideline) का पालन करते हुए वोट देने की अपील की. तारापुर प्रखंड में मतदाताओं ने खासा उत्साह दिखाया. कड़ी धूप के बावजूद मतदाताओं की लंबी कतार दिखी. 

उधर, गया जिले के दो प्रखंडों की 33 पंचायतों में वोटिंग हुई. कुल 478 पोलिंग बूथ बनाए गए थे. खिजरसराय प्रखंड के आईमा गांव में महिलाओं के लिए पिंक बूथ बनाया गया था. रोहतास जिले के बैरी गांव में बनाए गए मतदान केंद्र पर मतदाताओं को परेशानी पेश आई, क्योंकि बायोमीट्रिक सुचारू रूप से काम नहीं कर रही थी.