बिहारः संजय गांधी जैविक उद्यान के पक्षियों के नमूनों में नहीं मिले बर्ड फ्लू के लक्षण

पटना चिड़ियाघर से पक्षियों के जितने भी नमूने भेजे गए थे, उसमें बर्डफ्लू के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. 

बिहारः संजय गांधी जैविक उद्यान के पक्षियों के नमूनों में नहीं मिले बर्ड फ्लू के लक्षण
पटना चिड़ियांघर के पक्षियों में बर्ड फ्लू के लक्षण नहीं मिले हैं. (फाइल फोटो)

पटनाः बिहार आने वाले पर्यटकों के लिए एक राहत वाली खबर है कि राजधानी पटना स्थित संजय गांधी जैविक उद्यान (पटना चिड़ियाघर) को आम दर्शकों के लिए जल्द खुलने की उम्मीद बढ़ गई है. चिड़ियाघर से पक्षियों के जितने भी नमूने भेजे गए थे, उसमें बर्डफ्लू के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. 

पशुपालन विभाग के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि संजय गांधी जैविक उद्यान से जितने भी नमूने पहले भेजे गए थे, उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. यहां से मंगलवार को भी विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों के 26 नमूने भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजा गया है. अगर इसकी रिपोर्ट भी निगेटिव आई तब चिड़ियाघर दर्शकों के लिए खोल दिया जाएगा. 

संजय गांधी जैविक उद्यान के निदेशक अमित कुमार ने बताया कि बर्डफ्लू के कारण 25 दिसंबर से संजय गांधी जैविक उद्यान अनिश्चितकाल तक के लिए बंद कर दिए गए थे. इसके बाद बर्ड फ्लू को लेकर सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं. उन्होंने कहा कि चिड़ियाघर को संक्रमणमुक्त करने के लिए अभी भी कई तरीके के कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया जा रहा है. 

उन्होंने भी संभावना जताते हुए कहा कि मंगलवार को पक्षियों के भेजे गए नमूनों की रिपोर्ट अगर निगेटिव आती है, तब चिड़ियाघर को आम दर्शकों के लिए खोलने में कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए. 

उल्लेखनीय है कि प्रतिदिन हजारों दर्शक पटना चिड़ियाघर घूमने आते हैं.

(इनपुटः आईएएनएस)