close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार कांग्रेस में हार पर मंथन जारी, विधायक ने की अकेले चुनाव लड़ने की वकालत

कांग्रेस विधायक अमित कुमार टुन्ना ने बडा बयान दे दिया है. टुन्ना ने कहा है कि अब समय आ गया है कि कांग्रेस को अकेले चुनावी मैदान में जाना चाहिए. 

 बिहार कांग्रेस में हार पर मंथन जारी, विधायक ने की अकेले चुनाव लड़ने की वकालत
कांग्रेस विधायक अमित कुमार टुन्ना ने बडा बयान दे दिया है.(फाइल फोटो)

पटना: बिहार कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को लेकर कांग्रेसियों के बीच मंथन का दौर जारी है. कांग्रेस विधायक अमित कुमार टुन्ना ने बडा बयान दे दिया है. टुन्ना ने कहा है कि अब समय आ गया है कि कांग्रेस को अकेले चुनावी मैदान में जाना चाहिए. कांग्रेस विधायक ने सांसद अखिलेश सिंह पर बेटे को टिकट दिलाने के नाम पर पार्टी को नुकसान पहुंचाने का भी आरोप लगाया है.

आरजेडी के खिलाफ कांग्रेस के नेता अब और मुखर होने लगे हैं. बिहार कांग्रेस के सीनियर लीडर के बाद अब विधायकों ने भी आरजेडी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. पार्टी के विधायक अमित कुमार टुन्ना इस कडी में आगे आये हैं. टुन्ना ने साफतौर पर कहा है कि अब वक्त आ गया है कि पार्टी को अकेले चुनावी मैदान में जाना चाहिए. 

 

अमित टुन्ना ने बिहार में पार्टी के खराब प्रदर्शन के लिए बिहार कैंपेन कमिटि के चेयरमैन सांसद अखिलेश सिंह को जिम्मेवार ठहराया है. टुन्ना ने कहा है कि अखिलेश ने अपने बेटे को टिकट दिलाने के लिए अपनी ही पार्टी का नुकसान किया. कांग्रेस को 11 सीटें मिल रहीं थीं. लेकिन बेटे को टिकट दिलवाने के लिए अखिलेश सिंह ने कांग्रेस के कोटे की सीट दूसरे दलों को दिलवा दीं. 

अमित टुन्ना ने कहा है कि अध्यक्ष राहुल गांधी को अखिलेश सिंह से पूछना चाहिए कि कैंपेन कमिटि के चेयरमैन होने के नाते उन्होंने कहां कहां कितनी सभाएं की. हेलीकॉप्टर से चुनाव प्रचार को लेकर क्या व्यवस्था की गयी थी. पार्टी ने मुझे किसनगंज के एक प्रखंड की जिम्मेवारी सौंपी थी मैंने वहां काम किया . पार्टी को सफलता भी मिली. 

पार्टी में कई बडे नेताओं के बेटे भी संघर्ष कर रहे हैं. वो अगर चुनावी राजनीति में आते हैं तो अच्छी बात है. लेकिन किसी को उपर से बिना मेहनत के टपका देना कहीं से भी ठीक नहीं.