बिहार: छिप-छिपकर मिल रहे थे प्रेमी युगल, ग्रामीणों ने देखा तो लॉकडाउन में करवाई शादी

गांव के ही शिव मंदिर में ललित और रानी की शादी ग्रामीणों की उपस्थिति में करा दी गई. लॉकडाउन की वजह से दूल्हा-दुल्हन मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए शादी रचाई.

बिहार: छिप-छिपकर मिल रहे थे प्रेमी युगल, ग्रामीणों ने देखा तो लॉकडाउन में करवाई शादी
मी युगल की गांव के ही मंदिर में शादी करा दी गई.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

बेगूसराय: कोरोना (Coronavirus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने अब लॉकडाउन-3 (Lockdown-3) लागू कर दिया है. लॉकडाउन-3 17 मई तक पूरे देश में लागू है. हालांकि, इस दौरान रेड (Red), ऑरेंज (Orange) और ग्रीन जोन (Green Zone) में जिलों को बांटकर उसमें कुछ छूट दी गई है.

इस लॉकडाउन के बीच, बिहार के बेगूसराय में छुप-छुपकर मिलना एक प्रेमी युगल को उस वक्त महंगा पड़ गया, जब लोगों ने उन्हें देख लिया. इसके बाद सामाजिक स्तर पर पंचायत के बाद, प्रेमी युगल की गांव के ही मंदिर में शादी करा दी गई. लॉकडाउन के बीच, सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के साथ प्रेमी जोड़े ने मास्क (Mask) लगाकर एक-दूसरे के गले में वर माला डाल शादी रचा ली.

घटना बखरी थाना क्षेत्र के चकहमीद पंचायत की है. जानकारी के अनुसार, कोठीयारा गांव निवासी पान दुकानदार ललित कुमार का रानी कुमारी के साथ पिछले 1 वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था. लॉकडाउन में भी दोनों प्रेमी जोड़े चोरी छुपे मिलते थे. इस बात की भनक दोनों के परिजनों के साथ-साथ ग्रामीणों को भी लग गई.

ये भी देखें... 

जानकारी मिलने के बाद गांव में ही सामाजिक स्तर पर मुखिया की देखरेख में पंचायत हुई, जहां दोनों के परिजनों ने शादी के लिए रजामंदी दी. इसके बाद, गांव के ही शिव मंदिर में ललित और रानी की शादी ग्रामीणों की उपस्थिति में करा दी गई. लॉकडाउन की वजह से दूल्हा-दुल्हन मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए शादी रचाई.

वहीं, पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि और सीपीआई (CPI) नेता सूर्य कांत पासवान ने कहा कि, प्रेम प्रसंग में लोगों ने दोनों को देखा था, जिसके बाद सामाजिक स्तर पर सामूहिक निर्णय के बाद, प्रेमी जोड़े की शादी कराई गई है. शादी से प्रेमी जोड़ा खुश हैं.