हॉस्पीटल का निर्माण करा रहे मुंशी की हत्या, नक्सलियों पर मर्डर का शक

नक्सल प्रभावित इलाका टुंडी के मानियाडीह में सरकारी अस्पताल का निर्माण करा रहे मुंशी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई. शव के पास से पर्चा बरामद होने से हत्या की आशंका जताई जा रही है, लेकिन पुलिस इस बात से इंकार कर रही है और आपसी रंजिश में हत्या बता रही है.

हॉस्पीटल का निर्माण करा रहे मुंशी की हत्या, नक्सलियों पर मर्डर का शक
हॉस्पीटल का निर्माण करा रहे मुंशी की हत्या, नक्सलियों पर मर्डर का शक (प्रतीकात्मक तस्वीर)

धनबाद : झारखंड के धनबाद जिला के नक्सल प्रभावित इलाका मानियाडीह में सरकारी अस्पताल का निर्माण करा रहे मुंशी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई. शव के पास से नक्सलियों का पार्चा बरामद हुआ है, जिससे नक्सलियों द्वारा हत्या की आशंका जताई जा रही है. चारो चरफ इस बात की चर्चा हो रही है कि लेवी देने से इनकार करने पर नक्सलियों ने मुंशी की हत्या कर दी. गौरतलब है कि इस तरह की घटनाएं सामने आती रहती है.

नक्सल प्रभावित इलाका टुंडी के मानियाडीह में सरकारी अस्पताल का निर्माण करा रहे मुंशी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई. शव के पास से पर्चा बरामद होने से हत्या की आशंका जताई जा रही है, लेकिन पुलिस इस बात से इंकार कर रही है और आपसी रंजिश में हत्या बता रही है.

मानियाडीह थाना के समीप सरकारी अस्पाताल का भवन निर्माण करा रहे मुंशी का शव पास के कुंआ से बरामद किया गया. स्थानीय लोगों द्वारा कुएं के पास खून के छींटे देखे जाने के बाद इसकी सुचना पुलिस को दी गई. पुलिस मौके पर पहुंचकर कुएं की तलाशी ली. तलाशी के बाद पुलिस ने कुएं में शव होने की आशंका जताई. पुलिस की आशंका सच साबि हुई. शव को कुंए से बाहर निकाला गया.

शव देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे गले और सिर पर धारदार हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी गई है. मुंशी का नाम शनिचर महतो है. वह बोकारो के नावाडीह का रहने वाला बताया जा रहा है.