झारखंड: महिला और बच्चे की गला रेतकर हत्या, पुलिस ने शुरू की जांच

खूंटी के सुदूवर्ती घोर नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र अड़की थाना अंतर्गत बीरबांकी गांव में अज्ञात अपराधियों ने एक 30 वर्षीय महिला क्रिस्टीना होरो और उसके दो वर्षीय पुत्र परता होरो की तेजधार हथियार और पत्थरों से कूचकर नृशंस हत्या कर दी.

झारखंड: महिला और बच्चे की गला रेतकर हत्या, पुलिस ने शुरू की जांच
महिला और दो साल के बच्चे की पत्थरों से कूचकर नृशंस हत्या कर दी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खूंटी: झारखंड के खूंटी के सुदूवर्ती घोर नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र अड़की थाना अंतर्गत बीरबांकी गांव में अज्ञात अपराधियों ने एक 30 वर्षीय महिला क्रिस्टीना होरो और उसके दो वर्षीय बेटा परता होरो की तेजधार हथियार और पत्थरों से कूचकर नृशंस हत्या कर दी.

संबंधित मामले का पर्दाफाश करते हुए हत्‍या के आरोपी लुकिन होरो को गिरफ्तार कर लिया है. घटना 6 जुलाई दोपहर की है जबकि घटना की सूचना पुलिस को  7 जुलाई 2020 को दी गई. पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पोस्‍टमार्टम कराते हुए शव को परिजनों को सौंप दी.

खूंटी एसपी आशुतोष शेखर ने अनुसंधान करते हुए देर शाम तक मामले का उदभेदन करते हुए घटना में शामिल अभियुक्‍त मृतिका के जेठ लुकिन होरो को हत्‍या में प्रत्‍युक्‍त टांगी के साथ गिरफ्तार कर लिया है. अभियुक्‍त ने मामले पर आपसी विवाद के कारण हत्‍या करने की बात स्‍वीकार कर ली है.

जानकारी के अनुसार बीरबांकी निवासी महेंद्र होरो की पत्नी क्रिस्टीना होरो अपने पति व दो बच्चों के साथ बीरबांकी के रुगुडीह टोला में रहती थी, जबकि उसके सास ससुर व देवर वहां से लगभग 1 किलोमीटर दूर जंगल के बीच में बसे बीरबांकी के बुरुसायडीह टोला स्थित पुराने मकान में रहते हैं. 

सोमवार सुबह मृतका के पति महेंद्र होरो चलकद के समीप मुचिया गांव मे लगने वाले साप्ताहिक बाजार में गया था. इसके साथ ही पर उक्त महिला अपने दो वर्षीय पुत्र के साथ अपनी सास ससुर से मिलने बुरुसायडीह टोला चली गई. उसके ससुर परता मुंडा ने बताया कि वहां कुछ देर रहने के बाद क्रिस्टीना अपने पुत्र के साथ वापस अपने घर जाने के लिए वहां से निकल गई थी. 

इसी दौरान जंगली रास्ते में मां बेटे की  तेजधार हथियार व पत्थरों से कूच कर हत्या कर दी गई. बाद में मवेशी चराने वाले कुछ बच्चों ने मां बेटे के शव को देखकर इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी थी.