विवादास्पद टिप्पणी को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ दर्ज हुई FIR

बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच. आर. श्रीनिवास ने बताया,‘जन प्रतिनिधि कानून की धारा 123 (3) और भारतीय दंड संहिता की धाराओं में सिद्धू के खिलाफ प्रथमिकी दर्ज की गई है.’

विवादास्पद टिप्पणी को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ दर्ज हुई FIR
पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कटिहार जिला प्रशासन ने साम्प्रदायिक रूप से भड़काऊ भाषण देने को लेकर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. नवजोत सिंह सिद्धू अपने भाषण में मुसलमानों से कथित रूप से कह रहे हैं कि उन्हें बांटने की कोशिश की जा रही है.

बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच. आर. श्रीनिवास ने बताया,‘जन प्रतिनिधि कानून की धारा 123 (3) और भारतीय दंड संहिता की धाराओं में सिद्धू के खिलाफ प्रथमिकी दर्ज की गई है.’ धारा 123 (3) धर्म, नस्ल, जाति, सम्प्रदाय और भाषा के नाम पर किसी भी प्रत्याशी या व्यक्ति द्वारा देश के नागरिकों के बीच घृणा या दुश्मनी फैलाने से रोकती है.

सिद्धू के बयान पर विवाद
बता दें पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव में हराने के लिए मुसलमानों से एकजुट होकर वोट करने की अपील को लेकर मंगलवार को विवाद हो गया.

विपक्षी महागठबंधन में शामिल कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर के पक्ष में मुस्लिम बहुल कटिहार में आयोजित एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए सिद्धू ने मोदी पर निशाना साधते हुए मुसलमानों से कहा 'ये बांट रहे हैं आपको.

कटिहार के पडोसी किशनगंज लोकसभा सीट, जहां से असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने अपना उम्मीदवार उतारा है, की ओर इशारा करते हुए सिद्धू ने कहा ' मुस्लिम भाइयों ये यहां पर ओवैसी साहेब जैसे लोगों को लाकर आप लोगों के वोट बांटकर जीतना चाहते हैं.’ सिद्धू ने मुसलमानों से कहा, 'यहां माइनॉरटी मजॉरटी में है. अगर तुम लोगों ने एकजुट होकर वोट डाला तो सब पलट जाएगा. मोदी सलट जाएगा. छक्का लग जाएगा.’