close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: राहत कार्य के लिए मंगवाया गया हेलिकॉप्टर, खोले गए फरक्का बैराज के सभी गेट- रविशंकर प्रसाद

बिहार सरकार ने इंडियन एयर फोर्स से राहत सामग्री और दवाइयां गिराने के लिए दो हेलीकॉप्टर की मांग की है. साथ ही बिहार सरकार ने एयर फोर्स से पानी निकालने की मशीन की भी मांग की है. 

पटना: राहत कार्य के लिए मंगवाया गया हेलिकॉप्टर, खोले गए फरक्का बैराज के सभी गेट- रविशंकर प्रसाद
भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति को देखते हुए फरक्का बैराज के सभी गेट खोल दिए गए हैं. (तस्वीर साभार: ANI)

पटना: बिहार (Bihar) में तीन दिनों की भारी बारिश से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. बाढ़ के कारण अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है. 

साथ ही आपको बता दें कि बिहार सरकार ने इंडियन एयर फोर्स से राहत सामग्री और दवाइयां गिराने के लिए दो हेलीकॉप्टर की मांग की है. साथ ही बिहार सरकार ने एयर फोर्स से पानी निकालने की मशीन की भी मांग की है. गंगा, कोसी, गंडक, बागमती, महानंदा जैसी बड़ी नदियों में जलस्तर बढ़ रहा है, जिससे कई जगहों पर बांध टूटने का खतरा पैदा हो गया है. जल संसाधन विभाग ने संबंधित अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है और जिला अधिकारियों से किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है.

 

वहीं, भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति को देखते हुए फरक्का बैराज के सभी गेट खोल दिए गए हैं. पटना साहिब के सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कोल इंडिया से और भी बड़े पंप को पानी निकालने के लिए मंगवाया गया है. 

साथ ही रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि पटना में बाढ़ को देखते हुए एनडीआरएफ से बात की गई है और उनका कहना है कि उनके पास नाव उपलब्ध हैं. रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि एयरफोर्स का एक हेलीकॉप्टर राहत कार्य के लिए पहुंच चुका है और एक जल्द ही पहुंच जाएगा. 

 आपको बता दें कि तीन दिनों की भीषण बारिश के बाद पटना समेत पूरे बिहार में मौसम सामान्य हो गया है. पिछले 12 घंटो से अधिक समय से पटना में बारिश रुकी हुई है. मौसम विभाग ने मौसम सामान्य होने की बात कही है.

 कल सीएम नीतीश कुमार के आरोप लगाया था कि मौसम विभाग ने सही पूर्वानुमान नहीं दी है जिसकी वजह से इस तरह के हालत हुए हैं. सीएम के इस आरोप को मौसम विभाग के उपनिदेशक आनंद शंकर ने ख़ारिज कर दिया है.

आनंद शंकर ने कहा है कि 19 सितम्बर से राज्य को मौसम खराब होने की अलर्ट करती रही है. मौसम विभाग और राज्य सरकार के आमने सामने है. अब देखना होगा कि आगे इसपर क्या रिएक्शन आता है.