पटना यूनिवर्सिटी में बम फटने के मामले पर हाईकोर्ट सख्त

पटना विश्वविद्यालय कैंपस में पिछले दिनों बम फटने के मामले को पटना हाईकोर्ट ने गंभीरता के साथ लिया है. 

पटना यूनिवर्सिटी में बम फटने के मामले पर हाईकोर्ट सख्त
डीएम और पटना यूनिवर्सिटी प्रशासन से हाइकोर्ट ने जवाब तलब किया (फाइल फोटो)

पटना: पटना विश्वविद्यालय कैंपस में पिछले दिनों बम फटने के मामले को पटना हाईकोर्ट ने गंभीरता के साथ लिया है. इस मामले को लेकर डीएम और पटना यूनिवर्सिटी प्रशासन से हाइकोर्ट ने जवाब तलब किया. आपको बता दें कि बीते दिनों थूक फेंकने को लेकर हुए विवाद में छात्रों के दो गुटों के बीच झड़प हो गया था.

सुल्तानगंज थाने में छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था. मामला दर्ज होते ही अगले दिन दूसरे गुट ने बमबारी की घटना को अंजाम दिया, जिसमें एक छात्र घायल हो गया था. बमबाजी की घटना के मद्देनजर देर रात मिंटो और इकबाल छात्रवास में पटना पुलिस ने दल-बल के साथ छपेमारी की गई थी. 

छपेमारी के बाद एक छात्र को पटना पुलिस ने हिरासत में लिया है. लगातार ऐसी घटनाओं के बाद सवाल उठ रहे थे कि शिक्षा के मंदिर में विस्फोटक जैसे समान कहां से आते हैं? इस मामले में आज हाईकोर्ट ने जवाब तलब किया.  इस मामले में कोर्ट को बताया गया कि इन होस्टलों में अक्सर अवैध बम हथियार बरामद किया जाता हैं. इनमे असामाजिक तत्वों का हाथ होने की बात भी सामने आया है. 

इस मामले पर एक सप्ताह बाद मामलें पर सुनवाई की जाएगी. साथ ही पटना हाई कोर्ट ने पटना के डीएम और पटना यूनिवर्सिटी के कुलसचिव को एक हफ्ते में वहां की सुरक्षा व्यवस्था पर जवाब पेश करने का आदेश दिया है.