close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : ट्रैक से होते हुए प्लेटफॉर्म तक पहुंची JDU सांसद की कार, आरोप-प्रत्यारोप जारी

बुधवार की शाम नरटकियागंज स्टेशन पर डीआरएम का दौरा था. इस दौरान स्थानीय सांसद वैद्यनाथ महतो भी स्टेशन पर पहुंचे थे, जहां उनकी गाड़ी रेलवे ट्रैक के बीच से होते हुये प्लेटफार्म दो तक गई, जहां सांसद गाड़ी से उतरे.

बिहार : ट्रैक से होते हुए प्लेटफॉर्म तक पहुंची JDU सांसद की कार, आरोप-प्रत्यारोप जारी
प्लेटफॉर्म तक पहुंची जेडीयू सांसद की कार.

पटना : बगहा से जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) सांसद वैद्यनाथ महतो की गाड़ी नरकियागंज में प्लेटफार्म नंबर दो तक चली गई, जिसको लेकर सवाल खड़े हो गए हैं. स्टेशन अधीक्षक प्लेटफार्म पर गाड़ी आने की बात मान रहे हैं और उसे गलत बता रहे हैं. वहीं, नरटकियागंज जीआरपी की ओर से कहा जा रहा है कि प्लेटफार्म पर गाड़ी नहीं आयी थी. लेकिन, सांसद के साथ गए लोग कह रहे हैं कि वैद्यनाथ महतो की सेहत ठीक नहीं रहती है, इस वजह से प्लेटफार्म तक गाड़ी गई.

बगहा सांसद वैद्यनाथ महतो विवादों में आ गए हैं. बुधवार की शाम नरटकियागंज स्टेशन पर डीआरएम का दौरा था. इस दौरान स्थानीय सांसद वैद्यनाथ महतो भी स्टेशन पर पहुंचे थे, जहां उनकी गाड़ी रेलवे ट्रैक के बीच से होते हुये प्लेटफार्म दो तक गई, जहां सांसद गाड़ी से उतरे.

विशेष बात यह है कि प्लेटफार्म नंबर दो तक गाड़ी जाने का रास्ता नहीं है, इसके बाद भी सांसद की गाड़ी गई, जिसको लेकर सवाल उठने लगे हैं. सांसद के साथियों की ओर से सफाई दी गई कि उनकी तबियत ठीक नहीं रहती है, इसलिए गाड़ी को प्लेटफार्म तक ले जाना पड़ा, जबकि स्थानीय लोग कह रहे हैं कि सांसद स्वस्थ हैं और पैदल चलते हैं. अगर वह स्टेशन के बाहर गाड़ी लगाकर जाते, तो ज्यादा अच्छा होता. सांसद ने नियम तोड़े हैं.

लाइव टीवी देखें-:

रेलवे के नियमों के मुताबिक, ट्रैक से होकर पैदल भी नहीं गुजरा जा सकता है, जबकि सांसद की गाड़ी रेलवे ट्रैक से होकर प्लेटफार्म तक गई है. इस मामले पर जब बिहार सरकार के मंत्री और जदयू नेता अशोक चौधरी से सवाल किया गया, तो उन्होंने भी रेलवे प्लेटफार्म पर सांसद की गाड़ी जाने को गलत बताया. साथ ही कहा कि हो सकता है कि किसी मजबूरी में सांसद प्लेटफार्म तक गाड़ी से गये होंगे, उसे भी हम लोगों को देखना चाहिये.

वहीं, आरजेडी उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने भी कहा कि ऐसे कोई गाड़ी लेकर क्यों प्लेटफार्म तक जायेगा. हो सकता है कि सांसद को ह्वीलचेयर नहीं मिली हो, जिसकी वजह से उन्हें गाड़ी से प्लेटफार्म तक जाना पड़ा हो. 

नरकटियागंज स्टेशन अधीक्षक लालबाबू राउत का कहना है कि हमारे यहां प्लेटफार्म पर गाड़ी आने की सुविधा नहीं है, लेकिन हमने सुना है कि सांसद की गाड़ी प्लेटफार्म तक आयी थी. ये गलत है. हम उस समय काम में लगे थे, हमने देखा नहीं. वहीं, जीआरपी धानाध्यक्ष अनिल कुमार का कहना है कि आप बेकार की बात कर रहे हैं. सांसद की गाड़ी प्लेटफार्म पर नहीं आयी थी.