Jharkhand में ऑनर किलिंग मामलें की सुनवाई, 4 लोगों को फांसी की सजा

Koderma Samachar: 25 अगस्त 2018 को चंदवारा थाना क्षेत्र के मदनगुंडी में 20 वर्षीय सोनी कुमारी की हत्या उसके माता-पिता और चाचा-चाची ने मिलकर गर्दन दबा कर कर दी थी .

Jharkhand में ऑनर किलिंग मामलें की सुनवाई, 4 लोगों को फांसी की सजा
झारखंड़ में 4 लोगों को फांसी की सजा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Koderma: कोडरमा के चंदवारा थाना क्षेत्र में ऑनर किलिंग (Honor killing) के एक मामले की सुनवाई करते हुए डी जे वन रामाशंकर सिंह की अदालत में 4 लोगों को फांसी की सजा सुनाई है. दरअसल, 25 अगस्त 2018 को चंदवारा थाना क्षेत्र के मदनगुंडी में 20 वर्षीय सोनी कुमारी की हत्या उसके माता-पिता और चाचा-चाची ने मिलकर गर्दन दबा कर कर दी थी और मामले को छिपाने के लिए  शव को जलाने का भी प्रयास किया गया था.

हालांकि, समय पर पुलिस पहुंच गई और शव को बरामद कर लिया. इस मामले को लेकर कोडरमा न्यायालय में स्पीडी ट्रायल किया गया और 15 मार्च को मृतका सोनी कुमारी के पिता किसुन साव, माता दुलारी देवी, चाचा सीताराम साव और चाची पार्वती देवी को दोषी पाया गया था. 

ये भी पढ़ेंः रांची पुलिस के हत्थे चढ़े 'मैगी चोर', पिस्टल के नोक पर देते थे घटना को अंजाम

वहीं, गुरुवार को सजा की सुनवाई करते हुए डीजे वन रमाशंकर सिंह की अदालत में चारों दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है. घटना के बाद से ही चारों अभियुक्त मंडल जेल में बंद थे और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चारों दोषियों को फांसी की सजा सुनाई गई है. साथ हीं, लोक अभियोजक दिनेश चंद्रा ने बताया कि मृतका सोनी कुमारी अंतरजातीय विवाह करना चाहती थी, जिससे उसके माता-पिता नाराज थे और इसी कारण परिवार के 4 लोगों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी थी. 

(इनपुट-गजेंद्र)