'जुगाड़' है सीमांचल एक्सप्रेस हादसे की वजह, डराने वाली है पूरी डिटेल

हादसा रविवार तड़के तीन बजकर 58 मिनट पर सहदेई बुजुर्ग में हुआ. पूर्व मध्य रेलवे के प्रवक्ता राजेश कुमार ने बताया कि सामान्य श्रेणी का एक डिब्बा, वातानुकुलित श्रेणी का एक डिब्बा बी3, शयनयान श्रेणी के डिब्बे एस8, एस9, एस10 और चार अन्य डिब्बे पटरी से उतर गए. रेलवे ने कहा कि ट्रेन हादसे में छह लोगों की मौत हुई है.

'जुगाड़' है सीमांचल एक्सप्रेस हादसे की वजह, डराने वाली है पूरी डिटेल
सीमांचल एक्सप्रेस की 11 बोगी पटरी से उतरी.
Play

नई दिल्ली: दिल्ली आ रही सीमांचल एक्सप्रेस (Simmachal Express) के 11 डिब्बे बिहार के वैशाली जिले में पटरी से उतर गए जिससे 7 लोगों की मौत हो गई. हादसा रविवार तड़के तीन बजकर 58 मिनट पर सहदेई बुजुर्ग में हुआ. पूर्व मध्य रेलवे के प्रवक्ता राजेश कुमार ने बताया कि सामान्य श्रेणी का एक डिब्बा, वातानुकुलित श्रेणी का एक डिब्बा बी3, शयनयान श्रेणी के डिब्बे एस8, एस9, एस10 और चार अन्य डिब्बे पटरी से उतर गए. रेलवे ने कहा कि ट्रेन हादसे में छह लोगों की मौत हुई है.

क्यों हुआ हादसा
इतने बड़े रेल हादसे की मुख्य वजह जुगाड़ है. एक तरफ हम बुलेट ट्रेन की बात कर रहे हैं, दूसरी तरफ हमारे यहां ट्रेन जुगाड़ से चल रही हैं. इतने लोगों की जान को जुगाड़ के भरोसे छोड़ा जा रहा है. सीमांचल एक्सप्रेस के हादसे की वजह जानकर ऐसा लगता है कि इतने बड़े रेल नेटवर्क के पास छोटी-छोटी जरूरतों को अभाव है. इस हादसे की वजह भयानक डराने वाली है. 

रेलवे के अफसरों के मुताबिक जब सीमांचल एक्सप्रेस जब कटिहार पहुंची तो पता चला कि दो बोगी को जोड़ेने वाले लोहे का गुल्ला टूटा हुआ है. रेलवे के कर्मचारियों ने संसाधन के अभाव में जुगाड़ से रेल बोगी को जोड़ दिया. लोहे के गुल्ले जगह बोगी जोड़ने के लिए रस्सी और लकड़ी के गुल्ले का प्रयोग किया गया था. डिब्बों के आपस में अच्छे से जुड़े नहीं होने के चलते ट्रेन की स्पीड बढ़ते ही वैक्यूम क्रिएट हो गया और इतना बड़ा हादसा हो गया.

रेलवे की ओर से जारी बयान में ये भी कहा गया है कि प्रारंभिक जांच में पटरी टूटने की वजह से यह हादसा हुआ है. बयान में कहा गया है कि स्टेशन यार्ड के बरौनी एंड पर पटरी टूट गई थी, जिसके चलते इतना बड़ा हादसा हुआ है. हालांकि वे ये भी कह रहे हैं कि मामले की विस्तृत जांच रिपोर्ट आने के बाद ही हादसे की असली वजह सामने आ पाएगी.

अधिकारियों ने बताया कि हादसे के समय ‘12487 जोगबनी-आनंद विहार टर्मिनल सीमांचल एक्सप्रेस’ तेज गति से चल रही थी. सोनपुर और बरौनी से डॉक्टरों का दल घटनास्थल पर पहुंच गया है. राहत एवं बचाव कार्य के लिए घटनास्थल पर राहत ट्रेन रवाना की गई है. रेलवे ने सोनपुर 06158221645, हाजीपुर 06224272230 और बरौनी 06279232222 के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं.