पटना पहुंचेगा शहीदों का पार्थिव शरीर, एयरपोर्ट पर सीएम नीतीश देंगे श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शहीद के परिजनों को 11-11 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है.

पटना पहुंचेगा शहीदों का पार्थिव शरीर, एयरपोर्ट पर सीएम नीतीश देंगे श्रद्धांजलि
पुलवामा हमले में शहीद हुए थे बिहार के दो जवान. (फाइल फोटो)

पटना : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में शहीद रतन कुमार ठाकुर का और संजय सिन्हा के पार्थिव शरीर को आज (शनिवार) सुबह लाया जायेगा. विशेष विमान से शव को पटना एयरपोर्ट लाया जाएगा, जहां से उन्हें हेलीकॉप्टर से शहीदों के पैत्रिक गांव तक पहुंचाया जाएगा. पटना एयरपोर्ट पर बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शहीद के परिजनों को 11-11 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. शहीद रतन के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भागलपुर पहुंच रहे हैं. उनके साथ बिहार सरकार में मंत्री रामनारायण मंडल भी हैं. 

शहीद रतन कुमार ठाकुर का शव पटना लाया जाएगा. पटना एयरपोर्ट से उनके शव को चॉपर से भागलपुर ले जाया जाएगा. दोपहर 12 बजे शहीद संजय सिन्हा का पार्थिव शरीर लाया जाएगा. पटना एयरपोर्ट पर इसको लेकर सारी तैयारियां पूरी हो चुकी है.

बुधवार को जैसे ही बेटे की मौत की खबर परिजनों को लगी तो पूरे इलाके में मातम पसर गया. शहीद रतन कुमार ठाकुर के पिता ने कहा, 'मैंने अपना एक बेटा खोया है. पाकिस्तान को इसका करारा जवाब मिलनी चाहिए. मैं इसके लिए अपने दूसरे बेटे को भी मां भारती की चरणों में अर्पित कर दूंगा.'

इससे पहले शहीद जवानों के को बिक्रम और नौबतपुर में श्रद्धांजलि अर्पित की गई. इस दौरान शहीद जवान जिंदाबाद और अमर रहे के नेरे लगे. वहीं, इस दौरान पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खां के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई. साथ ही मसूद अजहर और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगा.

शहीद स्मारक पर कैंडल मार्च को विराम देते हुए युवाओं ने नुक्कड़ सभा आयोजित कर विरोध जताया. शहीद जवानों को नमन करते हुए दो मिनट का मौन रखा गया. कैंडल मार्च में बिक्रमवासियों के साथ-साथ पालीगंज डीएसपी मनोज कुमार पांडेय और विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता और स्कूली बच्चों भी शामिल हुए.