close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार के लाल का कमाल, रक्षामंत्री के साथ उड़ाया तेजस लड़ाकू विमान, गांव में जश्न का माहौल

गांव के लोगों का कहना है कि तेजस लड़ाकू विमान में किसी भी रक्षा मंत्री द्वारा भरी गई यह पहली उड़ान है और उससे भी बड़ी बात यह है कि नर्वदेश्वर तिवारी उसे उड़ा रहे थे.

बिहार के लाल का कमाल, रक्षामंत्री के साथ उड़ाया तेजस लड़ाकू विमान, गांव में जश्न का माहौल
नर्वदेश्वर की इस सफलता श्रीकरपुर में खुशी का माहौल है.

सीवान: देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने गुरुवार को बेंगलुरु में स्वदेशी तकनीक से निर्मित लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरी. जिस तेजस में राजनाथ सिंह ने उड़ान भरी उसे बिहार के लाल नर्वदेश्वर तिवारी उड़ा रहे थे. गुठनी के श्रीकरपुर गांव निवासी एयर वाइस मार्शल नर्वदेश्वर तिवारी ने रक्षामंत्री के साथ उड़ान भरकर इतिहास रच दिया है. नर्वदेश्वर की इस सफलता के बाद उनके पैतृक गांव श्रीकरपुर में खुशी का माहौल है. 

उनकी इस कामयाबी से गांव में खुशी का माहौल है. गांव के लोगों का कहना है कि तेजस लड़ाकू विमान में किसी भी रक्षा मंत्री द्वारा भरी गई यह पहली उड़ान है और उससे भी बड़ी बात यह है कि नर्वदेश्वर तिवारी उसे उड़ा रहे थे.

नर्वदेश्वर तिवारी की शुरुआती पढ़ाई बोकारो में हुई. एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने एयरफोर्स ज्वाइन किया और देहरादून के आईएमए से पास आउट होकर एयरफोर्स में फ्लाइंग लेफ्टिनेंट के पद पर आसीन हुए. वह एयर वाइस मार्शल के पद पर बेंगलुरु एयरफोर्स हेड क्वार्टर में तैनात हैं. उनके पिता चन्द्रमौलि तिवारी भी बोकारो में जीएम थे. उनके बड़े भाई मेजर डॉ. कस्तूरी तिवारी और निगम तिवारी हैं. उनके परिवार में उनकी पत्नी डॉ. अर्चना तिवारी, एक पुत्र और एक पुत्री हैं.

रक्षामंत्री ने बताया रोमांचक अनुभव
राजनाथ सिंह तेजस लड़ाकू विमान में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री बन गए. हवाई सफर के बाद उन्होंने कहा कि विमान में सफर का उनका अनुभव बेहद रोमांचक रहा. सिंह ने विमान से उतरने के बाद अपनी उड़ान को सहज और आरामदायक बताया था.

-- Karan, News Desk