Corona के समय क्या कहता है homeopath? संक्रमण से बचाव के लिए इन चीजों का करें सेवन

Bihar Samachar: आयुर्वेद के बाद समाचिकित्सक के डॉक्टर परवीन मीणा ने बताया कि आर्सेनिक एल्बम 30 टैबलेट दिन भर में 3 बार लें.  

Corona के समय क्या कहता है homeopath? संक्रमण से बचाव के लिए इन चीजों का करें सेवन
Corona के समय क्या कहता है homeopath? (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Patna: कोरोना (Corona) के वक्त घर में रहना जरूरी है. लेकिन उससे जरूरी है कि घर में रहकर भी कोरोना से बचने के उपाय अपनाएं. वहीं, आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) ने कुछ दिशा-निर्देश दिए है. साथ हीं, आयुष विभाग ने एक पोस्टर जारी किया है कि काढ़ा के लिए जरूरी है तुलसी का पत्ता, दालचीनी, सौंठ और काली मिर्च का काढ़ा जरुर पिएं. 

इधर, सुबह उठकर गुनगुने पानी पिए और  फिर गिलोय, अश्वगंधा, दालचीनी, काली मिर्च और सौंठ का काढ़ा पिएं. वहीं, उन्होंने साफ सफाई रखने के निर्देश और नाक-कान में तेल डालने का कहा है. साथ हीं, नियमित रूप के योग करने को कहा है जिससे मानसिक संतुलन बना रहे. 

ये भी पढ़ेंः Bihar: कोरोना से बचाव के लिए गाइडलाइन जारी, 15 मई तक बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

आयुर्वेद के बाद समाचिकित्सक के डॉक्टर परवीन मीणा ने बताया कि आर्सेनिक एल्बम 30 टैबलेट दिन भर में 3 बार ले. इससे आपका इम्यूनिटी पॉवर बढ़ेगा. वहीं, उन्होंने कहा कि कोरोना से डरे नहीं बल्कि मुकाबला करें. 

बता दें कि कोरोना (Corona) की दूसरी लहर की वजह से पूरे बिहार (Bihar) में संक्रमण फैलता जा रहा है. जिसके बाद से ही बिहार सरकार (Bihar Government) ने कोरोना रोकथाम के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ​ने कोरोना रोकथाम के लिए कई दिशा-निर्देश दिए हैं. इसके तहत सभी जिलों में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाया जाएगा. इसके अलावा 15 मई तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद करने का फैसला किया गया है. वहीं, इस अवधि में किसी भी तरह की परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी. 

ये भी पढ़ेंः Bihar में कोरोना के आये रिकॉर्ड लगभग 8 हजार मामले, एक्टिव मामले 40 हजार के करीब

वहीं, बिहार में कोरोना लगातार सारे रिकॉर्ड टूटते जा रहे है. पिछले 3 दिनों से कोरोना के नए मामले में तेजी देखी जा रही है. वहीं, स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़े के अनुसार शनिवार को बिहार में कोरोना के 7870 नए मामले सामने आए. इधर, कोरोना से राजधानी पटना का भी बुरा हाल है. यहां, कोरोना ने एक बार फिर से कोरोना से तांडव मचाया है, जारी आंकड़े के अनुसार, जिले में शनिवार को 1898 नए मामले आए.