close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गया किलिंग : पटवा समाज ने की CBI जांच की मांग, पुलिस पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

बिहार के गया के मानपुर प्रखंड के बुनियादगंज थाना के जोड़ा मस्जिद बक्सरिया टोला में एक लड़की की सिरकटी लाश मिलने के बाद सनसनी फैल गई थी.

गया किलिंग : पटवा समाज ने की CBI जांच की मांग, पुलिस पर लगाया प्रताड़ना का आरोप
पटवा समाज के लोगों वने पुलिस पर लगाया प्रताड़ित कने का आरोप. (फाइल फोटो)

गया : बिहार के गया में हुए हत्याकांड मामले में पटवा समाज ने सीबीआई जांच की मांग की है. साथ ही समाज के लोगों ने पुलिस पर अंजना के परिजनों के प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए जल्द से जल्द दोषियों के खिलाफ कर्रवाई की मांग की है. पटवा समाज के अध्यक्ष ने कहा कि पुलिस अपराधियों को पकड़ने के बदले परिवार के लोगों को परेशान कर रही है. उन्होंने सरकार से पीड़ित परिवार के अविलंब मुआवजा देने की मांग भी की है.

ज्ञात हो कि बिहार के गया के मानपुर प्रखंड के बुनियादगंज थाना के जोड़ा मस्जिद बक्सरिया टोला में एक लड़की की सिरकटी लाश मिलने के बाद सनसनी फैल गई थी. जहां से लड़की का धड़ मिला, वहां से करीब पांच मीटर की दूरी पर सिर मिला था. सिर को जलाने का भी प्रयास किया गया था. शव की पहचान बुनियादगंज थाना के पेहानी निवासी तुराज प्रसाद की बेटी अंजना कुमारी के रूप में की गई थी.

अंजना 28 दिसंबर से लापता थी. इसकी मिसिंग रिपोर्ट संबंधित थाने में परिजनों ने दी थी, किंतु अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए परिवार के लोग तैयार नहीं हो थे. पुलिस के दबाव में चार जनवरी को अपहरण का केस दर्ज कर लिया गया था.

लड़की सीतादाहू के कारखाने में काम करती थी. इस संबंध में लॉ एंड ऑर्डर एडीजे आलोक राज ने कहा कि मामले की पूरी जांच वैज्ञानिक अनुसंधान से की जा रही है. इसके लिए एफएसएल और सीआईडी की टीम को बुलाया जा रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि मैं आश्वश्त करना चाहता हूं कि घटना की सभी बिंदुओं पर जांच होगी. गया पुलिस ने शुरुआती जांच में यह खुलासा किया था कि मामला ऑनर किलिंग का है, लेकिन पुलिस और पटवा समाज के अपने-अपने दावों के बीच हत्याकांड की मिस्ट्री उलझ चुकी है.

पूरे मामले की जांच करने लॉ एंड ऑर्डर एडीजे आलोक राज गया पहुंचे. पटवा समाज के अध्यक्ष प्रेम नारायण ने एडीजे से मुलाकात की और अपना पक्ष उनके समक्ष रखा. मृतक के पिता को जेल भेजे जाने पर एडीजे ने कहा कि जो साक्ष्य अब तक सामने आए और न्यायालय में बयान दर्ज हुए हैं, उसके आधार पर कारवाई हुई है. उन्होंने कहा कि जांच अभी जारी है, जो भी दोषी पाए जांगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.