बिहार: RSS की शाखा में पेट्रोल बम से हमला, RJD ने दिया ये बड़ा बयान

आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि नफरत फैलाने वाली राजनीति और नियम कानून को नहीं मानकर आरएसएस के लोग जो कर रहे हैं, वह काबिल-ए-तारीफ नहीं है.

बिहार: RSS की शाखा में पेट्रोल बम से हमला, RJD ने दिया ये बड़ा बयान
आरएसएस की शाखा में पेट्रोल बम से हमला होने पर सियासत तेज हो गई है.

पटना: सिकिदरी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के चल रहे रांची जिला प्राथमिक शिक्षा वर्ग में गुरुवार की रात अज्ञात लोगों ने पेट्रोल बम से हमला किया. हालांकि, इसमें कोई हताहत नहीं हुई. लेकिन इसकी गूंज बिहार तक जरूर पहुंच गई.

आरजेडी (RJD)  के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि ऐसे विरोध का कोई स्थान नहीं है. लेकिन आरएसएस को सोचना चाहिए कि उसके लोग किस ढंग से बंगाल में पकड़े गए. मुसलमानों का कपड़ा पहन कर पत्थर मार रहे थे और यूपी में पुलिस के साथ मिलकर हमला कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि आरएसएस के लोग दूसरे पक्ष के लोगों और एक समुदाय को धमकी दे रहे हैं. नफरत फैलाने वाली राजनीति और नियम कानून को नहीं मानकर आरएसएस के लोग जो कर रहे हैं, वह काबिल-ए-तारीफ नहीं है. आरएसएस- बीजेपी (BJP) को नफरत से प्रेम है और प्रेम से नफरत है.

वहीं, पेट्रोल बम फेंके जाने को बीजेपी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. बीजेपी एमएलसी सच्चिदानंद राय ने कहा कि जितना आरएसएस पर हमला हुआ है उतना ही आरएसएस मजबूत हुआ है. आरएसएस पर अटैक करने का मतलब हिंदू समाज पर अटैक करना है. बहुसंख्यक आबादी जिनकी संख्या 80 से 85 प्रतिशत है. उनके ऊपर भी पेट्रोल बम फेंकने के लिए सोचा जा सकता है.

बीजेपी नेता ने कहा कि हिंदुओं के अंदर अगर इस तरह से डर बैठाया जाएगा तो, कल हिंदू अगर संगठित हो गए तो जो गुजरात में हुआ वह पूरे देश में होगा. अब उसी की रचना रची जा रही है. हिंदू को इतना भयभीत किया जाए कि वह ऐसे काम कर दे जो गुजरात के हिंदुओं ने किया था.

बिहार में बीजेपी के सयोगी पार्टी जेडीयू के प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा की वैचारिक असहमति अपनी जगह पर है. लेकिन हिंसा की जगह लोकतंत्र में नहीं है. इस तरह से किसी भी संगठन के कार्यक्रम में ऐसी घटनाएं होंगी तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है. यह सिलसिला रूकना चाहिए.