close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों के लिए मांगी जा रही है दुआ, स्कूली बच्चों ने किया हवन

बिहार में चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों को बचाने के लिए दवा के साथ अब दुआ भी मांगी जा रही है. 

चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों के लिए मांगी जा रही है दुआ, स्कूली बच्चों ने किया हवन
एईएस से पीड़ित बच्चों के लिए दुआ मांगी जा रही है.

दानापुरः बिहार में चमकी बुखार एक खरनाक बीमारी बन गई है. जिसने 169 बच्चों की जान ले ली. वहीं, बिहार के मुजफ्फरपुर में 130 बच्चों की मौत हो चुकी है. ऐसे में बच्चों को बचाने के लिए दवा के साथ अब दुआ भी मांगी जा रही है. सैकड़ो बच्चों ने एक साथ मिलकर पीड़ित बच्चों के लिए दुआ मांगी.

राजधानी पटना के निकट मनेर में स्कूली बच्चों ने जहां मृत बच्चों के लिए मौन रखा वहीं, पीड़ित बच्चों की जिंदगी के लिए हवन भी किया.

स्कूली बच्चों ने हाथ जोड़ कर पूजा में भाग लिया और बीमारी को दूर भगाने के लिए भगवान से प्रार्थन करते हुए हवन किया. बच्चों को भगवान पर आस्था है कि वह चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों की मदद करेंगे और उन्हें जल्द से जल्द ठीक कर देंगे.

बच्चों ने पीड़ित बच्चों के साथ-साथ उन बच्चों के आत्मा के लिए शांति मांगी जो चमकी बुखार का शिकार होकर काल के गाल में चले गए. बच्चे उन सभी के लिए काफी दुखी हैं और वह चाहते हैं कि यह फिर से न हों, इसलिए भगवान से दुआ मांग रहे हैं.

बच्चों के साथ मिलकर यहां बड़ों ने भी पीड़ित बच्चों के लिए दुआ मांगी. बिहार में चमकी बुखार ने इस साल ऐसा कहर बड़पाया है जिससे करीब 169 बच्चों की मौत हो गई. वहीं, अभी भी सैकड़ों बच्चे इस बीमारी से पीड़ित हैं.

चमकी बुखार से केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकरा की किड़किड़ी हो रही है. जबकि सरकार और प्रशासन बेहतर इलाज का दावा कर रही है. लेकिन एक हफ्ते में बच्चों की लाशों की लाइन लग जाने से पूरा बिहार सकते हैं. लोग केवल दुआ मांग रहे हैं. क्योंकि इस बीमारी को लेकर अभी तक सफल इलाज सामने नहीं आया है.