close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दरभंगा: कैदी ने की वार्ड में आत्महत्या, पिता ने प्रशासन पर उठाए सवाल

 कैदी की पहचान बहादुरपुर थाना क्षेत्र के सनुआर गांव के रहने वाले आशु रंजन सिंह उर्फ भोलू के रूप में हुआ है. आत्महत्या करनेवाला कैदी हत्या के साथ आर्म्स एक्ट के मामले में जेल बंद था. 

दरभंगा: कैदी ने की वार्ड में आत्महत्या, पिता ने प्रशासन पर उठाए सवाल
जेल प्रसाशन के अधिकारी कैमरे पर कुछ नही बोल रहे हैं.

दरभंगा: बिहार के दरभंगा जिले के मंडल कारा में गुरुवार को कैदी वार्ड में एक कैदी ने आत्महत्या कर ली. कैदी का शव जेल में रस्सी से लटका हुआ मिला. कैदी की पहचान बहादुरपुर थाना क्षेत्र के सनुआर गांव के रहने वाले आशु रंजन सिंह उर्फ भोलू के रूप में हुआ है. आत्महत्या करनेवाला कैदी हत्या के साथ आर्म्स एक्ट के मामले में जेल बंद था. जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या करने के बाद से ही जेल प्रशासन पर भी अब सवाल उठने लगे हैं. आखिर जेल में एक कैदी रस्सी लगाकर आत्महत्या कर लेता है पर वहां किसी को कोई भनक तक नहीं लगी.

इस खबर जेल प्रशासन को मिला तो जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया है. लेकिन जेल प्रसाशन के अधिकारी कैमरे पर कुछ नही बोल रहे हैं. जेल प्रशासन ने शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया है. वही मृतक के पिता शम्भू कुमार सिंह ने भूमाफिया, पुलिस प्रशासन, जेल प्रशासन द्वारा साजिश कर बेटे की हत्या का आरोप लगाया. 

उन्होंने कहा कि इस संबंध में हमने जेल प्रशासन से भी जाकर कहा कि आपलोग हमारे लड़के को परेशान मत कीजिये और उसे टॉर्चर कर के उसकी हत्या कर दी गई. इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए. 

वहीं, उन्होंने जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि जेल प्रशासन पैसे नहीं देने पर खाना नही देना, पैसे मंगवाना, इन सारी बातों को पूरे प्रशासन को जानकारी है. लेकिन कुछ नहीं हो रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि हमको इस प्रशासन से और इस व्यवस्था से कोई उम्मीद नहीं है कि हमको न्याय मिलेगा.

वहीं, दरभंगा के एसएसपी बाबूराम ने कहा कि इस घटना की सूचना हमलोगों को मिली है और शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेजा गया है. इस संबंध में जो भी एनएचआरसी के जो भी गाइडलाइन है, उसके हिसाब से निष्पक्ष और नियम संगत करवाई की जाएगी.