तेजप्रताप का बड़ा बयान, बोले- मैं नेता से ज्यादा कार्यकर्ता को तरजीह देता हूं

रघुवंश सिंह की चिट्ठी के बाद पार्टी ने उन्हें पार्टी से बाहर मान लिया है. शनिवार को आरजेडी ऑफिस में हुए मिलन समारोह के दौरान लगाये गये पोस्टर से रघुवंश सिंह का चेहरा गायब दिखा. 

तेजप्रताप का बड़ा बयान, बोले- मैं नेता से ज्यादा कार्यकर्ता को तरजीह देता हूं
तेजप्रताप यादव ने कहा कि वो नेता से ज्यादा कार्यकर्ता को तरजीह देते हैं. (फाइल फोटो)

पटना: आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) ने भले ही आरजेडी से इस्तीफा दे दिया हो लेकिन लालू प्रसाद ने अभी तक रघुवंश सिंह का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है. इधर रघुवंश सिंह की चिट्ठी के बाद पार्टी ने उन्हें पार्टी से बाहर मान लिया है. शनिवार को आरजेडी ऑफिस में हुए मिलन समारोह के दौरान लगाये गये पोस्टर से रघुवंश सिंह का चेहरा गायब दिखा. कार्यक्रम के दौरान तेजप्रताप यादव ने पार्टी के सीनियर लीडरों को मैसेज भी दे दिया कि वो नेता से ज्यादा कार्यकर्ताओं को तरजीह देते हैं. क्योंकि कार्यकर्ता ही पार्टी की रीढ़ होते हैं.

कार्यक्रम में मुख्य अतिथी के रुप में पहुंचे तेजप्रताप यादव भी मौजूद रहे. कार्यक्रम के दौरान तेजप्रताप यादव ने मंच से बडी बात कह दी. तेजप्रताप यादव ने कहा कि वो नेता से ज्यादा कार्यकर्ता को तरजीह देते हैं. क्योंकि कार्यकर्ता पार्टी की रीढ़ होते हैं. अगर रीढ़ टूट गया तो नेता गिर जाएंगे. उन्होंने आगे कहा, 'वैसे हम कभी कभी नेता को भी तरजीह दे दिया करते हैं. तेजप्रताप यहीं नहीं रुके. 

उन्होंने आगे कहा कि संगठन में लोग आते-जाते रहते हैं. अनुभवी नेता के बाद नये कार्यकर्ता को जगह मिलती है और ये चक्र चलता रहता है. वहीं कार्यक्रम खत्म होने के बाद जब मीडिया ने तेजप्रताप यादव से रघुवंश को लेकर सवाल पूछा तो तेजप्रताप यादव ने सवाल सुनते ही हाथ जोड लिये.

इधर पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पोस्टर के मामले में अपनी सफाई दी. आरजेडी प्रवक्ता ने कहा कि मैंने पोस्टर नहीं देखा है. हो सकता है मिलन समारोह के दौरान किसी कार्यकर्ता ने पोस्टर लगाया होगा. लेकिन पार्टी की तरफ से ऐसा कोई भी पोस्टर नहीं लगाया गया है.