जन आकांक्षा रैली में बोले राहुल गांधी- 'जहां आलू उपजता है वहीं खोलेंगे आलू चिप्स की फैक्ट्री'

रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि अब बिहार में विपक्ष की सरकार बनने वाली है.

जन आकांक्षा रैली में बोले राहुल गांधी- 'जहां आलू उपजता है वहीं खोलेंगे आलू चिप्स की फैक्ट्री'
राहुल गांधी ने जन आकांक्षा रैली को संबोधित किया. (तस्वीर- @INCIndia)

पटना : बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान में आज (रविवार को) कांग्रेस ने जन आकांक्षा रैली आयोजित की थी. इस रैली को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित महागठबंधन के कई नेताओं ने संबोधित किया. रैली में शामिल होने के लिए छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्री भी बिहार आए थे. कांग्रेस अध्यक्ष ने इसे ऐतिहासिक रैली करार देते हुए पार्टी के नेताओं को धन्यवाद कहा. 

रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि अब बिहार में विपक्ष की सरकार बनने वाली है. साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने बजट को ऐतिहासिक करार दिया, लेकिन हिंदुस्तान के किसानों को महज 17 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से पैसे दिए गए.

राहुल गांधी ने कहा कि एमपी, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में हम फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री का जाल बिछाने वाले हैं. जहां आलू उपजता है वहीं आलू की चिप्स की फैक्ट्री, जहां टमाटर उपजता है वहीं टोमेटो कैचअप की फैक्ट्री और जहां गन्ना होता है वहीं चीनी मील खोलने जा रहे हैं. बिहार में भी अगर आप हमारे गठबंधन को मौका देंगे तो यही काम करके दिखाएंगे.

इस दौरान उन्होंने कहा कि अनिल अंबानी, नीरव मोदी और मेहूल चोकसी को हज़ारों करोड़ दिए गए, लेकिन किसान के परिवार को महज साढ़े तीन रुपये दिए गए. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्यप्रदेश के किसानों का एक भी रुपया नरेंद्र मोदी ने माफ नहीं किया. साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आई तो हमने तीनों राज्यों के किसानों के कर्जे माफ किए.

इससे पहले बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी ने बिहार के लोगों को ठगने का काम किया है. कांग्रेस की तरफ से यहां गांधी मैदान में आयोजित जन आकांक्षा रैली में तेजस्वी ने लोगों को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के योग्य बताया. उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम मोदी अपने विरोधियों के खिलाफ केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और आयकर विभाग को लगा देते हैं. 

तेजस्वी ने लालू प्रसाद को 'शेर' बताते हुए कहा कि कोई कुछ भी कर लें, लेकिन गरीबों की लड़ाई लड़ने वाले लालू को यहां के लोगों के दिलों से नहीं निकाल पाएंगे. उन्होंने कांग्रेस से सहयोगियों को साथ लेकर चलने की अपील की और कहा, "कांग्रेस बड़ी पार्टी है, इस कारण उसकी जिम्मेदारी है कि वह सहयोगियों को साथ लेकर चले. अगर राहुल गांधी प्रधानमंत्री बने तो बिहार को उसका अधिकार दिलाने का काम किया जाएगा."