close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस्वी की वापसी को लेकर RJD में जोश, JDU ने कहा- जनता का विश्वास खो चुके हैं तेजस्वी

पार्टी के नेता तेजस्वी के राजनीति से दूर जाने की अटकलों को खारिज करता है. लेकिन जेडीयू ने ये प्रचार करना शुरु कर दिया है कि तेजस्वी जनता और पार्टी का विश्वास खो चुके हैं.

तेजस्वी की वापसी को लेकर RJD में जोश, JDU ने कहा- जनता का विश्वास खो चुके हैं तेजस्वी
9 अगस्त से आरजेडी अपनी सदस्यता अभियान की शुरुआत करने जा रही है.(फाइल फोटो)

पटना: तेजस्वी यादव की सक्रीय राजनीति में वापसी को लेकर पार्टी ने तैयारी शुरु कर दी है. शुक्रवार को पार्टी की ओर से आरजेडी दफ्तर में शुरू होने वाले सदस्यता अभियान के लिए भव्य तैयारी की जा रही है. जाहिर है चुनाव के बाद तेजस्वी नये जोश खरोस के साथ राजनीति में सक्रीय होने की तैयारी कर रहे हैं. ऐसे में उनका आगाज जबरदस्त हो इसकी तैयारी है. हलांकि पार्टी के नेता तेजस्वी के राजनीति से दूर जाने की अटकलों को खारिज करता है. लेकिन जेडीयू ने ये प्रचार करना शुरु कर दिया है कि तेजस्वी जनता और पार्टी का विश्वास खो चुके हैं.

9 अगस्त से आरजेडी अपनी सदस्यता अभियान की शुरुआत करने जा रही है. लेकिन इसके साथ ही तेजस्वी की सियासत की दूसरी पारी भी 9 अगस्त से ही शुरु होने जा रही है. पार्टी के सदस्यता अभियान की शुरुआत तेजस्वी यादव ही करेंगे. जिसको लेकर पार्टी आफिस में भव्य तैयारी चल रही है. चुनाव के बाद से लंबे समय तक बिहार की सक्रीय राजनीति से तेजस्वी दूर थे. लेकिन अब दुबारा सक्रीय राजनीति में लौटने जा रहे हैं. तेजस्वी यादव के सदस्यता अभियान की शुरुआत होने वाले कार्यक्रम को मजबूत बनाया जा सके. इसके लिए पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं को कार्यक्रम में मौजूद रहने का निर्देश दिया गया है.

 

तेजस्वी यादव के दुबारा सक्रीय राजनीति में लौटने के सवाल पर पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि तेजस्वी ने राजनीति से सन्यास नहीं लिया है. तेजस्वी की उम्र ही क्या है. तेजस्वी को तो अभी संघर्ष करना है. तेजस्वी अभी कुछ दिनों के लिए बिहार से बाहर थे तो इसके पीछे कुछ खास वजहें थीं. परेशानी की वजह से ही तेजस्वी बिहार से दूर थे. इसका मतलब ये नहीं है कि तेजस्वी राजनीति से अलग हो चुके हैं.

इधर सदस्यता अभियान कार्यक्रम की शुरुआत को सफल बनाने में जुटे पार्टी के प्रवक्ता चितरंजन गगन भी तेजस्वी की सियासत से दूरी की बात को सिरे से खारिज करते हैं. चितरंजन गगन कहते हैं कि तेजस्वी भले ही हमारे बीच नहीं रहे हों लेकिन पार्टी के नेताओं से बराबर उनका संवाद रहा है. और पार्टी उन्हीं की दिशानिर्देश पर काम कर रही है. हलांकि आरजेडी प्रवक्ता ये जरुर मानते हैं कि तेजस्वी के नहीं रहने के कारण पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच विपक्षियों और मीडिया की ओर से भ्रम जरुर बनाया गया. लोगो तेजस्वी यादव को लेकर उनसे भी सवाल पूछते रहे हैं . पार्टी के कार्यकर्ताओं को वास्तविक स्थिती बता दी गयी है. अब कोई भ्रम की स्थिती नही है.

वहीं तेजस्वी को दुबारा वापसी पर जेडीयू ने हमला बोला है. पार्टी के प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा है कि तेजस्वी को डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष के रुप में पार्टी की सेवा करने का दो सुनहरा मौका मिला. तेजस्वी ने दोनों ही मौके गंवा दिये हैं. तेजस्वी जनता और पार्टी दोनों का भरोसा खो चुके हैं. ऐसे में उनके किसी भी अभियान से जुडने का फायदा आरजेडी को नहीं मिलने जा रहा .   

इधर कांग्रेस ने भी तेजस्वी यादव का बचाव किया है. कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौड ने कहा है कि तेजस्वी कभी सक्रीय राजनीति से दूर नहीं रहे. कल से आरजेडी के मेंम्बरशिप अभियान की शुरुआत हो रही है. तेजस्वी मेंबरशिप अभियान में लगेंगे. आरजेडी बिहार की सबसे बडी पार्टी है ऐसे में तेजस्वी की जिम्मेवारी तो बनती ही है. हर दल चाहता है कि उसके ज्यादा सेज्यादा सदस्य बने.