close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना में थाना घेरने पहुंचे तेजप्रताप यादव, पप्पू यादव पर लगाए गंभीर आरोप

तेजप्रताप यादव पटना के सुल्तानगंज थाना में समर्थकों के साथ धरना दिया है.

पटना में थाना घेरने पहुंचे तेजप्रताप यादव, पप्पू यादव पर लगाए गंभीर आरोप
तेजप्रताप यादव ने पप्पू यादव पर गुंडों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है.

पटनाः पटना यूनिवर्सिटी के छात्र और आरजेडी के नेता पर जानलेवा हमला हुआ है. दो दिन पहले हुए हमले में अपराधियों ने आरजेडी नेता पर जानलेवा हमला किया था. जिसके बाद उसकी गंभीर हालत में इलाज चल रही है. आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव इस घटना की लगातार निंदा कर रहे हैं. वहीं, रविवार को आरोपियों को सजा दिलाने के लिए वह सुल्तानगंज थाना का घेराव करने पहुंच गए. उन्होंने पप्पू यादव पर गुंडों को संरक्षण देने का आरोप भी लगाया है.

तेजप्रताप यादव छात्र नेता पर हमले को लेकर रविवार को पहले गांधी मैदान पहुंचे. उन्होंने गांधी मैदान में लगे महात्मा गांधी की मूर्ति के नीचे धरना दिया. वहीं, काफी संख्या में उनके समर्थक भी धरने में शामिल हो गए. उन्होंने इस दौरान न्याय की बात कही और आरोपियों को सजा दिलाने को कहा. साथ ही नीतीश सरकार पर बढ़ते अपराध को लेकर भी निशाना साधा.

उन्होंने आरजेडी नेता पर हमले को लेकर नीतीश कुमार की कानून व्यवस्था को फेल बताया. साथ ही उन्होंने सीधे तौर पर जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि जाप के गुंडों ने आरजेडी छात्र नेता पर हमला किया है.

इससे पहले भी तेजप्रताप ने ट्वीट कर कहा था कि 'पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव2018 में छात्र राजद के उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार गगन कुमार पर जन अधिकार छात्र परिषद के 50-60 हथियारबंद गुंडों ने पटना विश्वविद्यालय परिसर में किया जानलेवा हमला. पप्पू यादव देते हैं इन गुंडो को संरक्षण. शिक्षण संस्थान में छात्रों पर हमला निंदनीय है.'

वहीं, गांधी मैदान में धरना देने के बाद तेजप्रताप यादव अपने समर्थकों के साथ थाना का घेराव करने के लिए निकल गए. वह पटना के सुल्तानगंज थाना के सामने धरने पर बैठ गए. उन्होंने मांग करते हुए कहा कि दो दिनों के अंदर आरोपी पकड़े जांए. जिसके बाद थाना प्रभारी ने भी आश्वासन दिया कि आरोपी पकड़े जाएंगे. जिसके बाद तेजप्रताप यादव वहां से चले गए.