तेजस्वी यादव की कांग्रेस को नसीहत-'चंद सीटों के लिए अहंकार छोड़ दें, वरना जनता नहीं करेगी माफ'

लोकसभा चुनाव 2019 में ब‍िहार की राजनीत‍ि दिलचस्‍प होती जा रही है. आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव के ट्विट से बिहार महागठबंधन में फिर से सरगर्मी बढ़ा दी है.

तेजस्वी यादव की कांग्रेस को नसीहत-'चंद सीटों के लिए अहंकार छोड़ दें, वरना जनता नहीं करेगी माफ'
तेजस्वी यादव ने सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस को नसीहत दी है. (फाइल फोटो)

पटनाः आरजेडी के नेता और विपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने बिहार महागठबंधन में फिर से सरगर्मी बढ़ा दी है. तेजस्वी यादव ने महागठबंधन के सहयोगी दलों और कांग्रेस को नसीहत दी है कि अगर चंद सीटों के लिए अहंकार नहीं छोड़ा तो जनता उन्हें माफ नहीं करेगी. तजेस्वी के इस बयान के बाद महागठबंधन में सब ठीक नहीं है इस बात के कयास फिर से शुरू हो गए हैं. हालांकि कांग्रेस ने कहा है कि रविवार को महागठबंधन में सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा.

कांग्रेस ने कहा है कि सभी बातें साफ हो गई है और रविवार (17 मार्च) को महागठबंधन के सीट शेयरिंग का ऐलान किया जाएगा. लेकिन इसके बाद ही तेजस्वी यादव के एक ट्विट ने सियासत गरम कर दी है. तेजस्वी यादव ने एक ट्विट के जरिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा वहीं, कांग्रेस को भी कड़ी नसीहत दे दी है.

तेजस्वी यादव ने ट्विट में लिखा, 'संविधान और देश पर अभूतपूर्व संकट है. अगर अबकी बार विपक्ष से कोई रणनीतिक चुक हुई तो फिर देश में आम चुनाव होंगे या नहीं, कोई नहीं जानता? अगर अपनी चंद सीटें बढ़ाने और सहयोगियों की घटाने के लिए अहंकार नहीं छोड़ा तो संविधान में आस्था रखने वाले न्यायप्रिय देशवासी माफ़ नहीं करेंगे.'

आपको बता दें कि महागठबंधन में सीटों को लेकर कई सहयोगी दल नाराज दिख रहे हैं. जिसमें जीतनराम मांझी और वामदल शामिल हैं. जहां महागठबंधन से वामदल को अलग रखा जा रहा है. वहीं, जीतनराम मांझी को सम्मानजनक सीट नहीं मिलने से नाराज दिख रहे हैं. ऐसे में जीतनराम मांझी महागठबंधन से अलग फैसला भी ले सकते हैं.

तेजस्वी यादव के ट्विट में यही डर दिख रहा है. उन्हें डर है कि कांग्रेस की सीटों को लेकर नीतियों की वजह से कही महागठबंधन में बिखराव न हो जाए. इसलिए तेजस्वी यादव ने कांग्रेस को ध्यान रखने के लिए कहा है कि सीटों को लेकर ऐसी कोई बात न हो जिससे हम एनडीए को हराने में असफल रहे. उनकी नसीहत अन्य सहयोगी दलों को लेकर भी हो सकती है.

बहरहाल तेजस्वी यादव ने अपने ट्विट से केंद्र सरकार पर भी कड़ा निशाना साधा है. लेकिन उससे अधिक इस बात के संकेत दिख रहे हैं कि महागठबंधन में सहयोगी दलों को लेकर तजेस्वी यादव ने नाराज होकर सभी दलों को नसीहत दे दी है.