close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रांची: जेएमएम-कांग्रेस में सीटों का फार्मूला लगभग तय, छठ के बाद हो सकता है ऐलान

जानकारी के मुताबिक अन्य दलों से बात बनने पर कांग्रेस और जेएमएम 1- 2 शीट अपने खाते से कम कर सकते हैं. इसी आधार पर महागठबंधन गठन की कवायद चल रही है. उम्मीद है कि छठ पूजा के बाद महागठबंधन आकार ले लेगी.

रांची: जेएमएम-कांग्रेस में सीटों का फार्मूला लगभग तय, छठ के बाद हो सकता है ऐलान
जेएमएम विधानसभा चुनाव में नेतृत्व कर सकती है.

रांची: झारखंड में विधानसभा चुनाव में महज कुछ ही दिन बचे हैं. ऐसे में सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों अपनी अपनी रणनीति बनाने में जुटे हैं. एक तरफ महागठबंधन (Mahagathbandhan) तो दूसरी तरफ एनडीए (NDA).

ऐसे में दोनों ही अपने अपने सहयोगी दलों के साथ सीटों को लेकर तालमेल करने में जुटी हैं. लेकिन अभी तक किसी ने पत्ते नही खोले हैं. एनडीए में बीजेपी और आजसू (AJSU) के बीच सीट को लेकर बातचित जारी है. 

वहीं. दूसरी तरफ महागठबंधन के सभी दल सीट शेयरिंग को लेकर आपसी तालमेल बनाने में जुटे हैं.

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, महागठबंधन को लेकर जेएमएम (JMM) और कांग्रेस (Congress) के बीच सीट शेयरिंग को लेकर फॉर्मूला लगभग तय  हो गया है. 

जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस 30 और जेएमएम 40 सीट पर चुनाव लड़ सकती है. वहीं, ये भी बताया गया है कि लोकसभा चुनाव के वक्त ये भी तय हुआ था कि जेएमएम विधानसभा चुनाव में नेतृत्व करेगी.

इसके साथ ही महागठबंधन की ओर से घटक दलों से बातचीत की जिम्मेदारी बांटी गई है. जिसमें आरजेडी (RJD) व जेवीएम (JVM) से कांग्रेस, जबकि जेएमएम वामदलों से बात करेगा. 

वहीं, ये भी कहा जा रहा है कि अन्य दलों से बात बनने पर कांग्रेस और जेएमएम 1- 2 शीट अपने खाते से कम कर सकते हैं. इसी आधार पर महागठबंधन गठन की कवायद चल रही है. उम्मीद है कि छठ पूजा के बाद महागठबंधन आकार ले लेगी.

इन सबको को लेकर झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि छठ बीतने के बाद सभी फार्मूले लोगों के सामने स्पष्ट कर दिया जाएगा.

उन्होंने कहा कि अभी बहुत सारी चर्चाएं चल रही है कि आगामी विधानसभा चुनाव में जेएमएम बड़े भाई की भूमिका में रहेगी और छोटे भाई की भूमिका कांग्रेस अदा करेगी. लेकिन जेवीएम और आरजेडी भी इस गठबंधन में शामिल होंगे. हम लोग लगातार संपर्क में हैं और जल्द ही फार्मूले की घोषणा कर दी जाएगी.

वहीं, बीजेपी के प्रदेश महामंत्री दीपक प्रकाश ने कहा कि कौन सा महागठबंधन. यहां महागठबंधन बनता तो जरूर है, लेकिन यहां की जनता ने इन सभी को खारिज कर दिया है. चाहे कोई भी दल हो, महागठबंधन के सभी दलों को जनता ने नजदीक से देखा है औऱ समझा है. अब इस गठबंधन को जनता तक बंधन मान रही है.

जेएमएम प्रवक्ता विनोद पांडेय ने कहा कि महागठबंधन में सब कुछ ठीक है और इसकी चिंता बीजेपी को नहीं करनी है. हम सभी एकजुट हैं और बीजेपी को हराने का काम करेंगेट 

वहीं, आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह ने सीट शेयरिंग को लेकर कहा कि अभी हम से कोई बातचीत नहीं हुई है. हम लोगों का मांग 14 से 15 सीट की है. अगर बातचीत होती है तभी कुछ कहना सही होगा. वैसे महागठबंधन में हम सभी मिल बैठकर एक रास्ता निकालेंगे.