बिहार: उपेंद्र कुशवाहा ने साधा निशाना, कहा- शिक्षा को लेकर है बिहार सरकार लापरवाह

बिहार: उपेंद्र कुशवाहा ने साधा निशाना, कहा- शिक्षा को लेकर है बिहार सरकार लापरवाह

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी कि वह जल्द ही बिहार की राजधानी पटना में आमरण अनशन पर बैठने जा रहे हैं.

बिहार: उपेंद्र कुशवाहा ने साधा निशाना, कहा- शिक्षा को लेकर है बिहार सरकार लापरवाह

पटना: राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी कि वह जल्द ही बिहार की राजधानी पटना में आमरण अनशन पर बैठने जा रहे हैं.

उपेंद्र कुशवाहा के मुताबिक राज्य सरकार शिक्षा और शैक्षणिक संस्थानों को लेकर काफी लापरवाह है जिसका नतीजा है कि राज्य में लोगों के जमीन दिए जाने के बावजूद केंद्रीय विद्यालयों का निर्माण नहीं हो पाया है.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा ही नहीं है कि राज्य में शैक्षणिक संस्थानों की गुणवत्ता बढ़े. जिसका नतीजा है कि उनके मंत्री रहते हुए कई बार पत्र लिखने के बावजूद राज्य सरकार ने केंद्रीय विद्यालय को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई उल्टे कई तरह की आपत्ति लगा दी जिससे केंद्रीय विद्यालयों का खुलना काफी मुश्किल हो गया.

उपेंद्र कुशवाहा ने उम्मीद जताई कि उनके धरने में सभी विपक्षी दल एक प्लेटफार्म पर होंगे उपेंद्र कुशवाहा सत्ताधारी दल के विधायकों और सांसदों को भी पत्र लिख रहे हैं ताकि वह एक मंच पर आए और आकर राज्य में बेहतर शैक्षणिक हालात बनाने के लिए एकजुटता दिखाएं.

उपेंद्र कुशवाहा ने अपने विरोधियों को जवाब देते हुए कहा कि हर विषय पर वह राजनीति नहीं करते हैं यह राज्य में शिक्षा व्यवस्था से जुड़ा मामला है और इस पर सबका साथ होना चाहिए ना की राजनीति होनी चाहिए उन्होंने अपने विरोधियों को कहा कि राजनीति करने के लिए कई मामले हैं.

सुशील मोदी ने जेएनयू को लेकर ट्वीट किया तो वह कुशवाह ने पलटवार करते हुए कहा कि जेएनयू देश की बेहतरीन शैक्षणिक संस्थानों में से एक है और वहां गरीब के बच्चे पढ़ते हैं जिस कारण भाजपा अपना गुप्त एजेंडा वहां लागू नहीं कर पा रही है जिस दिन जेएनयू में अमीर के बच्चे पढ़ने लगेंगे जेएनयू के शैक्षणिक स्तर लगभग खत्म हो जाएगा.

Trending news