सुपौलः महिला ने तीन बच्चों के साथ खाई जहर, चारों की दर्दनाक मौत

सुपौल जिले में महिला ने संदिग्ध हालात में अपने तीन बच्चों संग जहर खा लिया. जिससे चारों की दर्दनाक मौत हो गई.

सुपौलः महिला ने तीन बच्चों के साथ खाई जहर, चारों की दर्दनाक मौत
सुपौल मे जहर खाने से महिला समेत तीन बच्चे की मौत हो गई.

सुपौलः बिहार के सुपौल जिले में महिला ने संदिग्ध हालात में अपने तीन बच्चों संग जहर खा लिया. जिससे चारों की दर्दनाक मौत हो गई. घटना को लेकर जहां महिला के ससुराल पक्ष और ग्रामीण अनभिज्ञता जता रहे हैं. वहीं, महिला के मायके पक्ष के लोगों ने ससुराल पक्ष पर हत्या करने का आरोप लगाया है.

सूचना के तीन घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की तफ्तीश में जुटी है, मामला सुपौल जिले के नदी थाना क्षेत्र के खोखनाहा वार्ड 12 का है. इस मामले में महिला के परिजनों के पहुंचने के बाद महिला का शव उसके ससुराल स्थित घर से और तीनों बच्चों का शव घर से तीन किलोमीटर दूर गड्ढे से खोद बरामद किया गया. 

महिला के परिजनों ने महिला के पति के भाई संजय मुखिया को पकड़कर रखा है. उनका आरोप है पारिवारिक विवाद में चारों को जहर खिलाकर मार दिया गया और शवों को मिट्टी में दबा दिया गया. वहीं इलाके के ग्रामीणों ने बताया कि मृतक महिला रूणा देवी (32 साल) के पति कारी मुखिया दिल्ली के स्टील फैक्टरी में काम करते हैं. महिला अपने बच्चों के साथ ससुराल में ही पति के परिजनों से अलग हटकर रहती थी. 

बुधवर की रात साढ़े 10 बजे महिला के घर से शोरशराबा सुनकर उनकी नींद खुली तो वे रुणा देवी के घर की ओर दौड़े तो देखा कि वहां दो बच्चों आरती(10 साल) और अर्जुन (8 साल) की मौत हो चुकी थी. एक बच्ची लक्ष्मी (6 साल) की सांसे चल रही थी अस्पताल ले जाने के दौरान उसने भी दम तोड़ दिया. इधर महिला को भी उल्टी होता देख उसके ससुर जवाहर मुखिया उसे अपने घर ले आए लेकिन रात दो बजे केपास उसकी भी मौत हो गई. 

ग्रामीणों के अनुसार बाद में कुछ लोगों के कहने पर मृतक रुणा देवी के भैंसुर (पति का भाई) संजय मुखिया कुछ ग्रामीणों के सहयोग से तीनों बच्चों के शव को घर से तीन किलोमीटर दूर जमीन में दफन कर आया. वहीं घटना की सूचना पर आज जब मृतक महिला रुणा देवी के परिजन पहुंचे तो बच्चों का शव जमीन से निकाला गया. 

इस संबंध में मृतका की बहन मंजू देवी, मां महादेवी देवी, बहन त्रिशुल देवी, भाई हीरा लाल मुखिया और चाचा रामा मुखिया ने आरोप लगाया कि ससुराल पक्ष ने पहले बच्चों को जबरन जहर खिलाकर हत्या कर दी और अब इसे आत्महत्या का रूप दिया जा रहा है. हालांकि घटना की जानकारी के बाद पहुंची नदी थाने की पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.