हिम्मतः 103 साल की उम्र में दादी ने जीती कोरोना की जंग, इस तरह दी कोविड को मात

विदिशा में नीमखेड़ा गांव की 103 साल की वृद्धा कोरोना को हराकर आज स्वस्थ सबके सामने है. इस बुजुर्ग महिला ने ना केवल विदिशा बल्कि पूरे हिंदुस्तान के लिए एक उदाहरण पेश किया है.

हिम्मतः 103 साल की उम्र में दादी ने जीती कोरोना की जंग, इस तरह दी कोविड को मात

दीपेश शाह/विदिशा: मध्य प्रदेश के जिले के विदिशा में नीमखेड़ा गांव की 103 साल की वृद्धा कोरोना को हराकर आज स्वस्थ सबके सामने है. इस बुजुर्ग महिला ने ना केवल विदिशा बल्कि पूरे हिंदुस्तान के लिए एक उदाहरण पेश किया है.

बुजुर्ग महिला का नाम सरस्वती देवी पंवार है. उन्हें कुछ समय बुखार आया और जब टेस्ट करवाया तो वह कोरोना पॉजिटिव निकली. परिजनों ने उन्हें होम क्वारंटाइन कर घर पर ही इलाज करवाना सही समझा. जिस कोरोना संक्रमण के नाम से ही लोग डर जाते हैं, सरस्वती देवी ने उस बीमारी का हिम्नत से सामना किया अपनी दृढ़ इच्छा शक्ति से उसे हरा दिया.

ये भी पढ़ें-मकान के पिलर पर कई दिनों से बैठा था 9 फीट लंबा अजगर, इस तरह किया गया रेस्क्यू

सरस्वती देवी की बहू रानी मोहनी पंवार बताती हैं कि उनकी सासू मां की आयु 103 साल है और उन्हें कई दिनों तक लगातार बुखार आता रहा. जब परिवार को इस बात की चिंता हुई तो उनका टेस्ट करवाया गया. जिसके बाद उनकी रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई. अस्पताल में उन्हें ले जाना सही नहीं था, इसलिए उन्हें घर पर ही आइसोलेट किया गया और इलाज करवाया गया. 

उनकी बहू का कहना है कि खुशी की बात है कि वह हमारे बीच मौजूद हैं और घर का एवं खुद का जरूरी काम भी करती हैं. वह एकदम स्वस्थ हैं और उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं है. 

Watch LIVE TV-