मंदसौर रेप केस पर बीजेपी नेता का ऐलान- आरोपी का सिर काटने वाले को दूंगा 5 लाख का ईनाम

यह दुर्भाग्य है कि आज के समय में भी मंदसौर जैसी घटनाएं घट जाती हैं. ऐसी दरिंदगी करने वाले व्यक्ति की क्षमा याचना पर विचार करेंगे तो यह हमारे देश का दुर्भाग्य होगा.

मंदसौर रेप केस पर बीजेपी नेता का ऐलान- आरोपी का सिर काटने वाले को दूंगा 5 लाख का ईनाम
होशंगाबाद भारतीय जनता पार्टी के खेल प्रकोष्ठ के जिला संयोजक संजीव मिश्रा

नई दिल्लीः मंदसौर रेप की घटना के बाद जहां प्रदेश भर में लोगों का आक्रोश उबाल पर है और वे लगातार आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग कर रहे हैं तो वहीं बीजेपी के एक नेता ने आरोपियों का सिर काट कर लाने पर 5 लाख के ईनाम की बात कहकर गैर जिम्मेदराना बयान दिया है. मंदसौर गैंगरेप पर बीजेपी नेता संजीव मिश्रा ने आरोपी के लिए मौत की सजा की मांग करते हुए यह बात कही है. संजीव मिश्रा ने कहा कि "हम लोग आरोपी के लिए मौत की सजा की मांग करते हैं. अगर प्रशासन या कोर्ट इसके समर्थन में नहीं है तो मैं आरोपी की गर्दन काट कर लाने वाले को 5 लाख का ईनाम दूंगा."

विधायक सुदर्शन गुप्ता ने कही थी धन्यवाद ज्ञापित करने की बात
बता दें बीजेपी नेता ने इस संदर्भ में फेसबुक पर पोस्ट भी डाली है. अपने फेसबुक पोस्ट में संजीव मिश्रा ने आरोपी का सिर काट कर लाने वाले को 5 लाख ईनाम देने की बात कही है. बता दें मंदसौर गैंगरेप मामले में अब तक कई नेताओं के विवादस्पद बयान आ चुके हैं. जिसकी शुरुआत इंदौर विधायक सुदर्शन गुप्ता से हुई थी. मासूम की स्वास्थ्य स्थिति जानने अस्पताल पहुंचे सुदर्शन गुप्ता ने बच्ची के माता-पिता से अस्पताल पहुंचे सांसद सुधीर गुप्ता के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करने की बात कही थी. जिसके चलते उन्हें कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. बाद में उन्होंने सार्वजनिक तौर पर मांफी मांग ली थी.

अपराधी ने पूरे मुस्लिम समाज को कलंकित किया
वहीं मध्यप्रदेश के आगर-मालवा से भाजपा विधायक गोपाल परमार ने भी मंदसौर रेप मामले में कहा कि "यह दुर्भाग्य है कि आज के समय में भी मंदसौर जैसी घटनाएं घट जाती हैं. ऐसी दरिंदगी करने वाले व्यक्ति की क्षमा याचना पर विचार करेंगे तो यह हमारे देश का दुर्भाग्य होगा. जो अपराधी है उसने पूरे मुस्लिम समाज को कलंकित किया है. इस तरह के कृत्य से पूरी कौम बदनाम किया है. ऐसे व्यक्ति को सरे आम सूली पर लटका देना चाहिए. राजा-महाराजा के जमाने में ऐसा ही होता था."

रेप करने वालों के लिए फांसी की सजा
विधायक परमार ने आगे कहा कि "आज-कल कानून व्यवस्था में लचीलापन देखने को मिलता था इस कारण मुख्यमंत्री जी ने 12 साल से कम उम्र वाली बच्ची का रेप करने वालों के लिए फांसी की सजा का कानून बनाया. समाज में ऐसे कृत्य को रोकने के लिए अपने बच्चों को संस्कारवान बनाएं विशेषकर के उस वर्ग के बच्चों में जिस वर्ग के व्यक्ति ने ये घटना क्रम किया है. उनके बच्चों में संस्कार कैसे आए ये अगर वो समाज सामूहिक रूप से प्रयत्न करता है तो ऐसे करने वालो पर रोक लगेगी और समाज मे परिवर्तन आएगा."