मध्य प्रदेशः ग्वालियर रेलवे स्टेशन की कैंटीन में लगी आग, धुआं देख लोगों में मची भगदड़

आग की खबर मिलने पर आरपीएफ पुलिस ने फायर ब्रिगेड को कैंटीन में आग लगी होने की सूचना दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर आग बुझाने का काम शुरू किया.

मध्य प्रदेशः ग्वालियर रेलवे स्टेशन की कैंटीन में लगी आग, धुआं देख लोगों में मची भगदड़
फोटो साभारः ANI

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश के ग्वालियर रेलवे स्टेशन में उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब लोगों ने प्लेटफॉर्म नंबर एक पर बनी कैंटीन में आग लगी देखी. मिली जानकारी के मुताबिक ग्वालियर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म क्रमांक 1 में सिलेंडर लीक होने की वजह से आग लग गई. जिसके बाद आग ने भयानक रूप ले लिया और कैंटीन को अपनी जद में ले लिया. वहीं आग देखने के बाद लोग बुरी तरह से घबरा गए और यहां से वहां भागने लगे. जिसके बाद पुलिस की मदद से लोगों को सुरक्षित जगह पर ले जाया गया.

वहीं आग की खबर मिलने पर आरपीएफ पुलिस ने फायर ब्रिगेड को कैंटीन में आग लगी होने की सूचना दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर आग बुझाने का काम शुरू किया. फायर ब्रिगेड को कैंटीन में लगी आग में काबू पाने में करीब 2 घंटे से ज्यादा का समय लग गया, लेकिन किसी तरह से आग बुझा दी गई. हालांकि आग बुझने तक कैंटीन पूरी तरह से जलकर खाक हो गई, लेकिन किसी तरह की जनहानि की सूचना नहीं है.

जोधपुर हाईकोर्ट के रिकॉर्ड रूम में लगी आग, काबू करने में दमकलकर्मियों के छूटे पसीनें

कैंटीन में लगी आग ने रेलवे टिकट कार्यालय को भी अपनी जद में ले लिया, जिससे कार्यालय में रखे टिकट रोल भी जलकर खाक हो गए. जिससे लाखों का नुकसान हो गया. आग देखकर वेटिंग रूम में बैठे लोग भी जल्दी से बाहर की तरफ भाग गए और घंटों तक अंदर नहीं आए. मिली जानकारी के मुताबिक घटना करीब 4.30 बजे की है. आग लगने के बाद कैंटीन के कर्मचारी भी कैंटीन से भाग गए. 

चंडीगढ़ से डिब्रूगढ़ जा रही ट्रेन में लगी आग, यात्रियों में मची अफरा-तफरी

इस आग की चपेट में गीताप्रेस गोरखपुर की दुकान, प्रतीक्षालय, और टिकट कार्यालय भी आ गए, जिससे लाखों का नुकसान हो गया. वहीं आग की लपटें देख स्टेशन से कई लोग बाहर निकल गए. इस घटना के बाद रेल यातायात भी कुछ समय के लिए बाधित रहा. घटना की जानकारी मिलने के बाद रेलवे डीआरएम एके मिश्रा सहित अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच करने के निर्देश दिए.