ढाई-ढाई सीएम पद को लेकर सिंहदेव ने फिर छोड़े कयासों के तीर, छत्तीसगढ़ की सियासत में फिर हलचल

रायपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद जब प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से ढाई-ढाई साल के सीएम के मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्हें फिर मजेदार बयान दिया. 

ढाई-ढाई सीएम पद को लेकर सिंहदेव ने फिर छोड़े कयासों के तीर, छत्तीसगढ़ की सियासत में फिर हलचल
टीएस सिंहदेव, स्वास्थ्य मंत्री, छत्तीसगढ़ (फाइल फोटो)

रायपुरः पंजाब में जब से कांग्रेस ने मुख्यमंत्री बदला है, तभी से छत्तीसगढ़ में भी ढाई-ढाई साल के सीएम का मुद्दा फिर गरमाता नजर आ रहा है. खास बात यह है कि छत्तीसगढ़ के कांग्रेसी नेताओं के बायन भी  इस मुद्दे को बार-बार हवा देते हैं. दरअसल, प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव कल भी इस मुद्दे पर एक एक बयान दिया था. जबकि आज फिर जब मीडिया ने उनसे सवाल किया तो उन्होंने फिर एक बयान दिया है. जिससे उनके बयान छत्तीसगढ़ के सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बने हुए हैं. 

ज्यादा विचलित ना होंः टीएस सिंहदेव 
दरअसल, रायपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद जब प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से ढाई-ढाई साल के सीएम के मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि ''ढाई-ढाई साल को लेकर लोगों में कौतुहल है, मैं लोगों से कहना चाहूंगा कि ज्यादा विचलित ना हों, हमारा लक्ष्य है कि छत्तीसगढ़ की बेहतरी के लिए काम करना है, समस्या का समाधान जल्द ही हो जाएगा.'' यानि बाबा ने एक बार फिर ऐसा बयान दिया जिससे कयासों का दौर शुरू हो गया है. 

कल बोले थे जल्द पता चल जाएगा कब होगी शादी
गौरतलब है कि कल जब स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव दिल्ली से वापस रायपुरु लौटे थे, तो उन्होंने छत्तीसगढ़ में सीएम के बदलाव के कयासों पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि 'जिस तरह बिटिया की शादी में देरी होने से लगा रहता है कि कब होगी शादी-कब होगी शादी. तो बस बहुत जल्द पता चल जाएगा कि कब होगी शादी'. उन्होंने कहा कि फैसला आलाकमान के पास सुरक्षित है.

सिंहदेव ने कहा था कि विधानसभा चुनाव जीतने के बाद जब छत्तीसगढ़ में सरकार बननी थी तो दो-तीन दिन में ही ऐसा लग रहा था कि कब निर्णय होगा. मुख्यमंत्री कब बनेंगे, कौतूहल रहता है. छत्तीसगढ़ वासियों के और सभी के मन में स्वाभाविक है कौतूहल होना. क्योंकि सभी को लगता है कि क्या होगा कैसा होगा. सरकार कैसे चलेगी. लेकिन ये निर्णय आसान नहीं होते. काफी बड़ा निर्णय है. हाईकमान बहुत सारी बातों का परीक्षण करता है उसके बाद होगा'.

सार्वजानिक बयान बाजी गलत है
वहीं जब उनसे बिलासपुर के कांग्रेस विधायक शैलेंद्र पांडेय के निष्कासन पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि ''चाहे किसी भी पक्ष की बात हो, सार्वजानिक बयान बाजी गलत है. क्योंकि सब कांग्रेस से जुड़े व्यक्ति हैं और हमारी पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी है हम सब आदर्शों पर चलने वाले व्यक्ति हैं. भावनाओं में आकर कुछ भी कह देते हैं. इसलिए हम जितना संयमित रहेंगे उतना हमारे लिए और पार्टी के लिए अच्छा है.''

वहीं बच्चों को वैक्सीन लगाए जाने पर टीएस सिंहदेव ने कहा कि केंद्र से जो भी निर्देश होगा, उसपर अमल किया जाएगा. इसके अलावा प्रदेश में डेंगू, कोरोना और स्वाइन फ्लू पर टीएस सिंहदेव ने कहा कि प्रबंधन में कोई कमी ना हो, ये हमारी जिम्मेदारी है. लोगों को भी जागरूक किए जाने की और सावधानी की जरुरत है. 

ये भी पढ़ेंः साथ नजर आए बाबा और बघेलः मुख्यमंत्री बोले-'कक्का अभी जिंदा है', सिंहदेव ने कह दी यह बात

WATCH LIVE TV