क्रांतिकारी ठाकुर रणमत सिंह के परिवार ने CM को भेंट की तलवार, शिवराज बोले- स्मारक बनाएंगे

कार्यक्रम के दौरान अंग्रेजों के खिलाफ 1857 की क्रांति के योद्धा ठाकुर रणमत सिंह के परिवार ने भी सीएम शिवराज से मुलाकात की. 

क्रांतिकारी ठाकुर रणमत सिंह के परिवार ने CM को भेंट की तलवार, शिवराज बोले- स्मारक बनाएंगे
शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्य प्रदेश

सतनाः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज सतना जिले के दौरे पर थे. शाम को सीएम सतना जिले के कोठी पहुंचे और सभा को संबोधित किया. इस दौरान सीएम शिवराज ने कई सौगातें भी दी. वहीं सीएम शिवराज देर से कोठी पहुंचने के लिए जनता से माफी मांगी, उन्होंने कहा कि आपने अभूतपूर्व स्नेह और प्यार दिया है. आपने फूल बरसाये हैं मैं विकास में कोई कांटे नहीं रहने दूंगा. 

कोठी में बनेगा ठाकुर रणमत सिंह का भव्य स्मारक 
कार्यक्रम के दौरान अंग्रेजों के खिलाफ 1857 की क्रांति के योद्धा ठाकुर रणमत सिंह के परिवार ने भी सीएम शिवराज से मुलाकात की. इस दौरान उनके परिवार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ठाकुर रणमत सिंह की तलवार भी भेट की. सीएम शिवराज ने कहा कि ठाकुर रणमत सिंह के परिवार ने मुझे उनकी वह तलवार भेंट की यही वहीं तलवार है जिससे उन्होंने अंग्रेजों लोहा लिया था. ये धरा धन्य है जहां उन्होंने जन्म लिया था. मैं उन्हें नमन करता हूं. उनके जन्मदिन पर यह घोषणा करता हूं कि कोठी में ठाकुर रणमत सिंह का भव्य स्मारक बनेगा, जिसमें उनके संग्राम की गाथा विस्तार से बताई जाएगी. जिन्होंने बलिदान किया उनका कर्ज हमें चुकाने का यह अवसर मिला है. जिसे हम पूरा करेंगे. 

ऐतिहासिक होगी ''भू-अधिकार योजना''
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ''मैं मुख्यमंत्री बना हूं गरीब की जिंदगी बदलने के लिए! नई योजना मुख्यमंत्री भू-अधिकार योजना में, जिनके पास रहने की जगह नहीं है, उन्हें पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाया जायेगा. दीनदयाल जी की जयंती पर हमने मुख्यमंत्री भू अधिकार योजना शुरू कर रहे हैं. गांवों का सर्वे करेंगे, बड़े परिवारों को रहने के लिए जमीन देने का पट्टा देंगे. यह ऐतिहासिक योजना होगी.जमीन भू माफियाओं से भी मुक्त कराई जाएगी. क्योंकि घर बनाना हर किसी का सपना होता है. मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने आवास योजना चलाई है. राज्य का भी 40 फीसदी अंश उसमें है. पहले पट्टा देंगे फिर मकान भी बनवाएंगे.''

जनदर्शन नहीं तो क्या कमलनाथ के दर्शन करें 
मुख्यमंत्री ने कहा कि ''मैं कुर्सी पर बैठ कर आनंद लेने के लिए नहीं बल्कि जनता की सेवा करने के लिए मुख्यमंत्री हूं. किसान निधि में भी 6 हजार पीएम के और 4 हजार हम राज्य से दे रहे हैं. कमलनाथ जैसे लोग भी सीएम बने. वो कहते हैं हम जनदर्शन कर रहे हैं. हम जनदर्शन नहीं करें तो क्या कमलनाथ के दर्शन करें ?. मैं जनता से मिल रहा हूं, समस्याएं निपटा रहा हूं तो क्या गलत है. कमलनाथ सिर्फ ट्वीट करते हैं. लेकिन ट्वीटर से जनता का कल्याण नहीं होगा. 

सतना में लाएंगे नर्मदा का जल 
सीएम शिवराज ने कहा कि ''एक योजना बेरोजगारों के लिए बनाई जा रही है, जिसमें 2 करोड़ रुपये तक का लोन देने की व्यवस्था बनाई जाएगी. जिसकी गारंटी राज्य सरकार लेगी. रोजगार आज की बड़ी समस्या है. उसे दूर करने के उपाय कर रहे हैं. एक साल में एक लाख नौकरियां भी निकाल रहे हैं. पीने के पानी के लिए नल जल योजना बनाई है, सिंचाई के लिए बरगी के काम को तेज किया है. डेढ़ से दो साल में नर्मदा जल सतना लाएंगे और पटिहट का काम भी पूरा कराएंगे. 

इस बार पीएम भी कोरोना के दौर में मुसीबत में रहे. लेकिन कुशलता से उस स्थिति से निपटे, मैं भी उसी हालात में सीएम बना, खजाना भी खाली था. कोरोना से मुकाबला और विकास के काम दोनों एक साथ चलाने का काम हमने किया. है. सीएम ने कहा कि कोठी में अंबेडकर स्टेच्यू, श्रीनगर में रविदास मंदिर बनेगा. कोठी में कॉलेज बनेगा, स्टेडियम को भी पूरा किया जाएगा. इसमें 2 करोड़ 65 लाख की लागत लगाई जाएगी. ढाई करोड़ की लागत से कोठी में सीसी, पीसीसी सड़कें और 26 लाख की नाली बनाएंगे. कोठी में 18 करोड़ की लागत से सीएम राइज स्कूल बनाएंगे. खनगढ़ में वन विभाग की चौकी बनेगी. सांसद ने जिन धार्मिक स्थलों का उल्लेख किया है उन सबका का जीर्णोद्धार किया जाएगा. इन सभी कार्यों के लिए मुझे जनता का साथ चाहिए. आप सभी वादा करेंगे कि साथ देंगे. 

ये भी पढ़ेंः राहुल गांधी पर बरसे विजयवर्गीय, नसीहत-सोच-समझकर ट्वीट करें या फिर समझदार की मदद लें

WATCH LIVE TV