MP में आकाशीय बिजली की चपेट में आए 11 लोगः दो महिलाओं सहित चार की मौत, 7 घायल

मध्य प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि सात लोग घायल हो गए. 

MP में आकाशीय बिजली की चपेट में आए 11 लोगः दो महिलाओं सहित चार की मौत, 7 घायल
आकाशीय बिजली गिरने से चार लोगों की मौत

आगर-मालवा/उज्जैनः मध्य प्रदेश में आज अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से चार लोगों की मौत हो गई. जिनमें एक सात साल का बच्चा भी शामिल हैं. आगर-मालवा जिले के मनासा गांव में तीन लोग बिजली की चपेट में आ गए. तो एक व्यक्ति की मौत उज्जैन जिले में हुई है. 

आगर-मालवा जिले में तीन की मौत 
आगर मालवा जिले के नलखेड़ा क्षेत्र में आकाशीय बिजली ने जमकर कहर बरसाया है. तीन अलग-अलग गांवों में बिजली गिरी. जिसमें 2 महिलाओं सहित एक 7 वर्षीय बालक की मौत हो गई. जबकि चार लोग गंभीर रुप से घायल हो गए. जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल रेफर किया गया है. जिनमें से तीन लोगों का नलखेड़ा अस्पताल में इलाज जारी है. जबकि एक को दूसरे अस्पताल रेफर किया गया है. वहीं अलग-अलग जगह हुए घटनक्रम से अचानक आए मरीजों से नलखेड़ा अस्पताल में अफरा-तफरी का माहौल बन गया. 

आगर मालवा जिले के ग्राम मनासा, पिलवास और लसुलड़िया में देर शाम हुई तेज वर्षा के साथ आकाशीय बिजली गिरी. मनासा गांव में खेत से मजदूरी कर लौट रही 35 वर्षीय महिला रेखा बाई और उसके 7 वर्षीय बालक पंकज पर रास्ते मे आकाशीय बिजली गिरी, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई और उनके साथ आ रही रामकन्या बाई घायल हो गई. इसके अलावा ग्राम पिलवास में 45 वर्षीय महिला नैना बाई पर बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई. जबकि ग्राम लसुलड़िया में तीन बच्चों सहित तीन अन्य घायल हो गए, जिनका इलाज जारी है. 

उज्जैन के नरवर क्षेत्र में गिरी बिजली 
उज्जैन के थाना नरवर क्षेत्र के एक गांव में भी बिजली गिरी जहां खेत पर काम कर रहे 32 साल का युवक उसकी चपेट में आ गए और घायल हो गया. युवक के परिजन उसे आनन-फानन में तत्काल अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया. मिली जानकारी के अनुसार राजेश नॉलेज सिटी के पास खेत मे सोयाबीन कटाई का काम कर रहा था और अचानक आकाशीय बिजली की चपेट में आ गया. बता दें कि इससे पहले  25 सितंबर की दोपहर ऐसी ही एक घटना जिले के थाना माकड़ौन अंतर्गत घटी थी जिसमें 15 व 17 वर्षीय दो बालकों की खेत मे काम करते आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई थी. 

महाकाल मंदिर के पीछे भी गिरी बिजली 
दरअसल, आज बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में मौसम ने मानों अपना विक्राल रूप धारण कर लिया. एक तरफ जहां आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक की मौत हो गई तो दूसरी तरफ बाबा महाकाल मंदिर के पीछे भी बिजली गिरी. हालांकि गनीमत रही उस वक्त वहां कोई श्रद्धालु नहीं था जिससे कोई जनहानि नहीं हुई. लेकिन उज्जैन जिला प्रशासन ने लोगों से अपील है कि ऐसे मौसम में जरूरी हो तो ही बाहर निकले. क्योंकि आने वाले 24 घंटे में भी बारिश की आशंका जाहिर की गई है. 

ये भी पढ़ेंः IAS-IPS की खान बनता जा रहा चंबल का यह जिला, विकास ने पहले ही प्रयास में पास किया UPSC एग्जाम

WATCH LIVE TV