पकड़ा गया फर्जी "इनकम टैक्स कमिश्नर", नौकरी देने के नाम पर करता था ठगी

आयकर आयुक्त की नेम प्लेट लगी गाड़ी भी पुलिस ने जब्त की.

पकड़ा गया फर्जी "इनकम टैक्स कमिश्नर", नौकरी देने के नाम पर करता था ठगी
पकड़ा गया फर्जी इनकम टैक्स कमिश्नर

मनोज जैन/उज्जैन: उज्जैन माधव नगर पुलिस ने फर्जी इनकम टैक्स कमिश्नर बनकर नौकरी देने के नाम पर डेढ़ लाख की ठगी करने वाले आरोपी को इंदौर से गिरफ्तार किया है.

नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी
माधव नगर थाने के थाना प्रभारी मनीष लोधा ने बताया कि उज्जैन केसर बाग कॉलोनी में रहने वाले फरियादी सत्यनारायण सोलंकी को इंदौर निवासी दीपक बेरवा ने इनकम टैक्स कार्यालय में जूनियर असिस्टेंट के पद पर नौकरी दिलाने के नाम पर ₹200000 की डिमांड की थी.

नौकरी दिलाने के नाम पर झांसा
दरअसल आरोपी दीपक बैरवा इनकम टैक्स कमिश्नर इंदौर की गाड़ी में सवार होकर अपना रुतबा फरियादी को दिखाता था. जिसके कारण फरियादी आरोपी के झांसे में आ गया और उसने पहली किश्त के रूप में 110000 रुपये नौकरी दिलाने के नाम पर आरोपी को दे दिए. कई दिनों तक जब आरोपी दीपक नौकरी दिलाने के नाम पर लगातार झांसा देता रहा. उसके बाद फरियादी को अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ तो थाना माधव नगर उज्जैन में आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई है.

आरोपी इंदौर से गिरफ्तार
टी आई मनीष लोधा ने बताया कि फिलहाल माधव नगर पुलिस ने आरोपी को इंदौर से गिरफ्तार कर उस इनोवा कार को भी जप्त कर लिया है जिस पर इनकम टैक्स कमिश्नर इंदौर के नेम प्लेट लगी थी. साथ ही 170, 419, 420, 434 धाराओं में मामला दर्ज किया है.

ये भी पढ़ें: 14 गोल्ड, 5 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मुफलिसी का जीवन जीने को हुई मजबूर, टूट रहा ओलम्पिक का सपना

WATCH LIVE TV