close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झालावाड़ जिला कारागृह से 3 कैदी फरार, जेल प्रशासन में मचा हड़कंप

पुलिस ने बताया कि जेल में दिन में बंदियों को बाहर निकाला जाता है व संध्या के समय उनकी फिर से गिनती की जाती है. देर शाम की गिनती के समय तीन कैदी कम निकले,

झालावाड़ जिला कारागृह से 3 कैदी फरार, जेल प्रशासन में मचा हड़कंप
हाड़ौती अंचल और सीमावर्ती इलाकों में नाकेबंदी कर दी गई है. (प्रतीकात्मक फोटो)

झालावाड़/महेश परिहार: जिला कारागृह से रविवार शाम को तीन कैदी जेल की दीवार फांद कर फरार हो गए. पुलिस ने बताया कि जेल में दिन में बंदियों को बाहर निकाला जाता है व शाम के समय उनकी फिर से गिनती की जाती है. शनिवार देर शाम की गिनती के समय तीन कैदी कम निकले. जिसके बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया. 

जांच में पता चला कि फरार आरोपियों में अक्कू राठौर नाबालिक बालिका के साथ बलात्कार के बाद हत्या के आरोप में विचाराधीन कैदी था. दो अन्य फरार कैदी दिनेश प्रजापति और सोहन सुतार बलात्कार के आरोप मे विचाराधीन कैदी के रुप में बंद थे. 

जेल उपाधीक्षक राजपाल सिंह ने बताया कि दिन में कैदियों को बैरक से बाहर निकालने के बाद देर शाम में गिनती कर उन्हें वापस बैरक में भेजा जाता है. उस दौरान जेल से तीन बंदी फरार मिले. इस मामले में जेल उपाधीक्षक ने भी जेल प्रहरियों की लापरवाही को किसी हद तक स्वीकार किया है.

झालावाड़ पुलिस उप अधीक्षक अतुल साहू ने बताया कि देर शाम जेल प्रशासन द्वारा कैदियों के फरार होने की सूचना मिली, जिसके बाद से ही समूचे हाड़ौती अंचल और सीमावर्ती मध्य प्रदेश इलाकों में कड़ी नाकेबंदी कर दी गई है और फरार कैदियों को जल्द ही दबोच लिया जाएगा. हालांकि घटना के बाद जेल प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्थाओ पर सवालिया निशान खड़े हो गए हैं. 

इस मामले में जेल एसपी कोटा सुमन मालिवाल ने सोमवार देऱ शाम 5 लोगों को निलंबित कर दिया. जिसमें जेलर निमिता सक्सेना के अलावा 4 कांस्टेबल का नाम शामिल हैं. यह भी जानकारी मिल रही है कि जेल में 32 सीसीटीवी कैमरे लगे हुए है. लेकिन इस दौरान एक भी कैमरा चालू नहीं था.