राजस्थान सरकार को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, पंचायत चुनाव में महिलाओं को मिलेगा 50% आरक्षण

हाईकोर्ट में महिला आरक्षण के खिलाफ याचिका दायर की गई थी. इससे पहले पंचायत चुनाव में 33 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलता था लेकिन अब कोर्ट के आदेश के बाद पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा.

राजस्थान सरकार को हाईकोर्ट से बड़ी राहत, पंचायत चुनाव में महिलाओं को मिलेगा 50% आरक्षण
हाईकोर्ट में महिला आरक्षण के खिलाफ याचिका दायर की गई थी.

जयपुर: राजस्थान में पंचायतीराज चुनाव में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का पेंच अब पूरी तरह से सुलझ गया है. हाईकोर्ट के निर्देश के बाद अब पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा.

हाईकोर्ट में महिला आरक्षण के खिलाफ याचिका दायर की गई थी. इससे पहले पंचायत चुनाव में 33 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलता था लेकिन अब कोर्ट के आदेश के बाद पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा.

इसका मतलब ये रहा है कि गांव की सरकार में महिला जनप्रतिनिधि 50 फीसदी तो होगी ही. प्रधान, पंच, सरपंच, जिला परिषद सदस्य और जिला प्रमुखों की 50 फीसदी सीटों पर महिलाओं का कब्जा रहेगा. प्रदेश में 2015 के पिछले चुनावों में भी महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया गया था. 

इस बार भी महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा 
ग्रामीण एवं पंचायतीराज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश्वर सिंह का कहना है कि यह पूरा मामला कोर्ट में गया था लेकिन अब कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. कोर्ट के आदेश के बाद पिछली बार की तरह इस बार भी महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा हालांकि निकाय चुनाव में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया गया जाता है. इसी आधार पर हाईकोर्ट में याचिका लगाई लेकिन हाईकोर्ट ने इसकी याचिका का खारिज कर महिलाओं को बड़ी राहत दी है. अबकी बार भी पंचायत चुनाव में आधी जनप्रतिनिधि महिलाएं ही होगी.

गौरतलब है कि ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने शनिवार को ही जिला प्रमुखों के लिए लॉटरी निकाली थी, जिसके बाद ये तस्वीर साफ हो गई है कि 33 में से 16 जिलों में महिला ही जिला प्रमुख होंगी. इस दौरान ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश्वर सिंह, विशिष्ट सचिव आरूषि मलिक समेत विभाग के तमाम अधिकारी मौजूद थे. हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद सरकार के साथ-साथ महिलाओं को भी बड़ी राहत मिलेगी.